बीकानेर गंगाशहर थाना क्षेत्र में तीन दिन पहले बाइक से घड़सीसर रोड पर जा रहे दो युवकों को कुछ लोगों ने रोककर शराब के लिए रुपए मांगे। रुपए नहीं देने पर गाली-गलौज कर लाठी-सरियों से मारपीट शुरू कर दी। एक युवक तो जान बचाकर भाग निकला, लेकिन दूसरे को बदमाशों ने बुरी तरह पीटने के बाद मरा समझकर सड़क पर ही छोड़कर भाग गए। घायल युवक को गंभीर हालत में पीबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उपचार के दौरान मंगलवार को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने हमलावरों पर हत्या का मामला दर्ज किया है। गंगाशहर पुलिस के अनुसार 26 अगस्त को गंगाशहर के पुरानी लाइन सारडा चौक निवासी दीपक पुत्र शिवकुमार साध ने रिपोर्ट दी कि वह और उसका भाई राकेश बाइक पर सारड़ा चौक से घड़सीसर रोड की तरफ जा रहे थे। आदर्श विद्या मंदिर स्कूल के पास खड़े प्रेमाराम जाट, बजरंग बिश्नोई, बजरंग भारती, मदन भारती, सोम जोशी व पांच-सात अन्य लोगों ने उन्हें रोका। आरोपियों ने शराब के लिए रुपए मांगे। रुपए नहीं देने पर उन्होंने गाली-गलौज की। वे बाइक पर सवार होकर आगे निकल गए तो आरोपियों ने जीप से पीछा कर उनकी बाइक को टक्कर मारकर गिरा दिया। दीपक ने बताया कि वह जान बचाकर भाग गया, लेकिन उसके भाई राकेश को आरोपियों ने पकड़ लिया और उस पर लाठी-सरियों व तलावारों से हमला कर दिया। वारदात की सूचना गंगाशहर पुलिस मौके पर पहुंची, तब तक आरोपी भाग गए। पुलिस ने घायल राकेश को ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया। आइसीयू में उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं मृतक के चाचा झंवरलाल साध ने कहा कि हत्यारों को जब तक गिरफ्तार नहीं किया जाएगा, शव का पोस्टमार्टम नहीं कराएंगे।
धारा 302 जोड़ी जायेगी
मारपीट में घायल राकेश की मंगलवार देर रात को इलाज के दौरान मौत हो गई। पीबीएम चौकी से सूचना मिली है। शव का बुधवार सुबह पोस्टमार्टम कराया जाएगा। जानलेवा हमले में अब धारा 302 और जोड़ी जाएगी।सुभाष बिजारणिया, एसएचओ गंगाशहर थाना