>



खुलासा न्यूज बीकानेर। एक तरफ सरकार का लॉकडाउन दूसरी तरफ वैक्सीन दोनों एक दूसरी के विपरित चल रहे है। वैक्सीन लगाने वाले सुबह से ही सभी अस्पतालों में भीड़ जमा हो जाती है। ऐसा ही एक नजारा सोमवार को भ्ुजिया बाजार स्थित दो नंबर राजकीय चिकित्सालय में डराने वाली भीड़ देखी गई। चिकित्सालय के अंदर का परिसर खचाखच भरा था। सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर की बात यहां लोग एक दूसरे के ऊपर गिर रहे थे। वैक्सीनेशन करवाने आए लोगों में धैर्य की भारी कमी देखी गई। यह नासमझी हर रोज अस्पतालों आमजन सोशल डिस्टेंसिंग के महत्व को समझ नहीं रहा है। बाजारों व अस्पतालों में रोज कोरोना संक्रमण से बचाने वाले नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। सबसे बड़ी बात यह है एक भुजिया बाजार स्थित दो नबंर राजकीय अस्पताल में जगह कम है और सभी कमरे पास पास है वहीं जांच हो रही है वहीं डॉक्टर देख रहे है वहीं दवाई मिल रही है जिससे काफी भीड़ हो जाती है और अगर इस भीड़ में कोई संक्रमित व्यक्ति आ जाता है तो अस्पताल के कर्मचारी के साथ आमजन भी कोरोना की चपेट में आ सकते है। जिससे एक बड़े समुदाय में कोरोना की चैन बढ़ सकती है। समय रहते इस भीड़ को रोकने के लिए प्रशासन ने कोई व्यवस्था नहीं की तो सरकार का लॉकडाउन एक तरह से फैल साबित होता नजर आ रहा है।