नए साल में भर्ती पैटर्न में होगा बड़ा बदलाव, 2 दर्जन विभागों के लिए एक ही परीक्षा

जयपुर। अपने कार्यकाल के 3 वर्ष पूरे होने के बाद राज्य की गहलोत सरकार नए साल में बेरोजगार युवाओं को बड़ा तोहफा देने जा रही है। राज्य की गहलोत सरकार भर्ती पैटर्न में बड़ा बदलाव करने जा रही है, जिसके तहत 20 से ज्यादा विभागों के लिए एक ही भर्ती परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।इस भर्ती परीक्षा को समान पात्रता परीक्षा नाम दिया गया है। सूत्रों की माने तो भर्ती पैटर्न में बदलाव करने के बाद अब गैर तकनीकी पदों के लिए अलग-अलग आवेदन करने के साथ ही परीक्षा देने की जरूरत भी नहीं होगी। सभी गैर तकनीकी पदों के लिए एक ही आवेदन करना होगा और उसकी परीक्षा भी एक ही बार होगी। वित्त विभाग के पास पहुंची फाइल बताया जा रहा है कि कार्मिक विभाग ने समान पात्रता परीक्षा का प्रस्ताव तैयार कर विधि विभाग को भेजा था जिस पर विधि विभाग की अनुशंषा होने के बाद अब यह फाइल वित्त विभाग के पास पहुंची है, जहां वित्त विभाग की मुहर लगने के बाद इसे आगामी कैबिनेट की बैठक में रखा जाएगा, जहां इस भर्ती पैटर्न पर कैबिनेट की मुहर लग जाएगी। कर्मचारी चयन बोर्ड कराएगा आएगा परीक्षा बताया जा रहा है कि नया भर्ती पैटर्न लागू होने के बाद इसका जिम्मा भी राजस्थान राज्य कर्मचारी चयन बोर्ड को दिया जाएगा। परीक्षा एक चरण में बहुविकल्पीय प्रश्न पत्र के आधार पर होगी। परीक्षा में अर्जित अंकों की वैधता अवधि 3 वर्ष रहेगी, इस परीक्षा में बैठने के लिए अवसर की कोई सीमा नहीं होगी, आयु संबंधी और अन्य पात्रता के आधार पर कोई भी अभ्यर्थी इस में भाग ले सकेगा। गौरतलब है कि अभी अलग-अलग विभागों के लिए अलग-अलग भर्ती परीक्षा का आयोजन करना पड़ता है। ऐसे में सरकार नया भर्ती पैटर्न के फार्मूले पर काम कर रही है, जिसके तहत गैर तकनीकी पदों के लिए एक ही बार परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp