कल से प्रदेश में गिरेगा पारा-छूटेगी धूजणी

जयपुर. अगले सप्ताह से प्रदेश में सर्दी का असर हावी होने वाला है, दरअसल उत्तर भारत में चलने वाली ठंडी हवाएं मध्य भारत की ओर आएगी। इससे उत्तरी राजस्थान के जयपुर, हनुमानगढ़, चूरू, झुंझुनूं, बीकानेर, अलवर, सीकर में शीतलहर का प्रकोप रहेगा।इससे न्यूनतम तापमान में गिरावट होगी और गलन भरी सर्दी पड़ेगी। इसका सबसे ज्यादा असर शेखावाटी अंचल पर देखने को मिलेगा। यहां का पारा पांच डिग्री से कम रहने के पूरे आसार हैं। वहीं फतेहपुर, माउंट आबू समेत अन्य स्थानों पर तापमान जमाव बिंदु या उससे भी नीचे यानी माइनस में जा सकता है। इधर वर्तमान समय में उत्तर भारत के पहाड़ों में ठंड का दौर जारी है। हिमाचल प्रदेश, कश्मीर, जम्मू में भी बर्फबारी के बीच कड़ाके की ठंड पडऩे लगी है। जयपुर सहित अन्य जगहों पर सुबह के समय हल्का कोहरा छाया रहा, साथ ही गलन भरी सर्दी से ठिठुरन बढा दी है। पारे में उतार चढ़ाव का क्रम जारी एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के चलते प्रदेश में बीते 48 घंटे में पारे में उतार चढाव का क्रम जारी है। लगभग सभी जगहों पर पारे में दो से चार डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज की गई। हालांकि गलन भरी सर्दी का असर लगातार जारी है। बीती रात को फतेहपुर का पारा प्रदेश में सबसे कम 5.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग जयपुर केंद्र के अधिकारियों के मुताबिक एक कम तीव्रता के पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से गुरुवार को बीकानेर, जयपुर व भरतपुर संभाग के जिलों में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। हालांकि, बारिश की संभावना काफी कम है। आगे के लिए अलर्ट वहीं शुक्रवार से एक बार पुन: हिमालय की तरफ से आने वाली ठंडी उत्तरी हवाओं का प्रभाव राज्य में शुरू होगा। 17 से 20 दिसंबर के दौरान बीकानेर, जयपुर संभाग व आसपास के जिलों में शीतलहर चलने की प्रबल संभावना है। इससे न्यूनतम तापमान में तीन से चार डिग्री की गिरावट हो सकती है। मौसम केंद्र जयपुर प्रभारी राधेश्याम शर्मा ने बताया कि बुजुर्गों और बच्चों को इस मौसम में खास ध्यान रखने की जरूरत है। वहीं अन्नदाताओं की फसलों के पकाव के लिए मौसम बेहतर माना जा रहा है। प्रमुख जगहों का पारा बीते दिन बुधवार रात को पारा चूरू का 6 डिग्री, अलवर का 7.8, गंगानगर का 4.5, हनुमानगढ का 3.5, जयपुर का 10.9, जैसलमेर का पारा 2.9, बाडमेर का पारा सीकर का 5.2, नागौर का 4.1, सिरोही का 9.8 डिग्री सेल्सियस पारा दर्ज किया गया।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp