100 यात्रियों से भरी रोडवेज बस को स्पीड में दौड़ाया - Khulasa Online

100 यात्रियों से भरी रोडवेज बस को स्पीड में दौड़ाया

जयपुर । रोडवेज के एक बस ड्राइवर ने 100 यात्रियों से भरी बस को ओवर स्पीड में दौड़ाया। बस भी ओवरलोडेड थी। बताया जा रहा है ड्राइवर शराब के नशे में था। इस दौरान बस में बैठे लोगों ने टोका तो ड्राइवर बोला कि बस ऐसे ही चलेगी। जिसे उतरना है वह कूद जाए। इस दौरान लोगों ने जैसे-तैसे बस को रूकवाया और कंडेक्टर व ड्राइवर की पिटाई कर दी। मामला मंगलवार देर रात 11:30 बजे का है। पुलिस ने बताया कि धौलपुर डिपो की एक बस रोडवेज में कॉन्ट्रेक्ट पर लगा रखी है। मंगलवार रात ग्यारह बजे जयपुर के सिंधी कैंप से रवाना हुई थी। जयपुर आगरा नेशनल हाइवे पर बस्सी और उससे पहले से भी सवारियों को बस में बिठाया गया। बस में जितनी सीटें थी उससे ज्यादा सवारियों पहले ही बैठा ली गई थी। उसके बाद में चालक और सवारियों को भरने के लिए बार बार बस रोक रहा था। बाद में जब बस खचाखच भर गई तो बस को हवा की रफ्तार से दौड़ा दी। सवारियों ने विरोध किया तो उन्हें कहा जिसके परेशानी है वह चलती बस से उतर ले। जब विरोध बढ़ा तो चालक देवेन्द्र बस साइड में लगाकर भाग गया। बाद में परिचालक से पता चला कि वह भयंकर नशे में था। गुस्से में सवारियों ने परिचालक विकास पर हाथ साफ कर लिए और उसे पुलिस के हवाले कर दिया। राजस्थान रोडवेज से अनुबंधित बस का ड्राइवर और कंडक्टर 100 लोगों की जान से खेलने लगा।नशे में मदमस्त ड्राइवर बस को ओवर स्पीड और जिगजैग करने लगा तो बस में बैठी सवारियां डर गई। कई बार ड्राइवर-कंडक्टर को समझाने का प्रयास किया लेकिन नहीं माने। समझाने पर ड्राईवर बोला जिसे उतरना है वह बस से कूद जाओ बस तो ऐसे ही चलेगी। लोगों ने अपनी जान जोखिम में देखी तो पहले कंडेक्टर को फिर ड्राइवर के साथ मारपीट करना शुरू किया।जिसके बाद ड्राइवर रात 11.30 बजे बस को रोड पर खड़ी कर के भाग गया। सूचना पर बस्सी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शराब पिये हुए परिचालक को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बस को जब्त कर चालक की तलाश की जा रही है। धौलपुर डिपो पर अनुबंध से लगी थी बस पहली बार नहीं हुआ कई बार देखा गया चालक को नशे में यह पहला वाक्या नहीं जब रोडवेज या अन्य निजी बसों के चालक शराब पी कर बस चालते हैं। कई चालक को इतने अभ्यस्थ हो चुके है कि वह बिना शराब के नशे के वाहन नहीं चला पाते। ऐसे में नियमित चैकिंग नहीं होने के कारण बस चालकों में भी किसी प्रकार का कोई खौफ नहीं है। अगर बस में बैठी सवारियां विरोध नहीं करती तो शायद एक बड़ा हादसा हो सकता था। चालक के खिलाफ पुलिस ने गम्भीर धाराओं में मामला दर्ज किया है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp