>



नई दिल्ली। दुनियाभर में सबसे ज्यादा यूज किया जाने वाला इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp के यूजर्स के लिए अच्छी खबर आई है. अब अगर 15 मई तक यूजर्स ने नई प्राईवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं किया तो भी उनका अकाउंट डिलीट नहीं किया जाएगा. कंपनी ने दरअसल प्राइवेसी पॉलिसी की डैडलाइन 15 मई को आगे बढ़ाने की घोषणा कर दी गई है, जिसके बाद यूजर्स को कहीं न कहीं राहत जरूर मिलेगी.

इसलिए लिया गया फैसला
इससे पहले WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को यूजर्स को एक्सेप्ट करना था और ऐसा नहीं करने पर अकाउंट को बंद कर दिया जाता. WhatsApp के इस ऐलान के बाद इसका हर तरफ विरोध किया जाने लगा. इतना ही नहीं बल्की व्हाट्सऐप के यूजर्स भी Signal App और Telegram जैसे अन्य विकल्प तलाशने लगे. इसी को देखते हुए कंपनी की तरफ से इसकी डैडलाइन बढ़ाने का फैसला लिया गया.

अकाउंट नहीं होगा बंद
WhatsApp के प्रवक्ता के ने कहा कि अगर आप 15 मई तक WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट नहीं करते हैं, तो भी आपका अकाउंट बंद नहीं किया जाएगा. उन्होंने कहा कि WhatsApp की नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर लोगों के मन में काफी भ्रम है, जिसे दूर करने की कोशिश की जा रही है. जब तक WhatsApp को लेकर पैदा हुए भ्रम को दूर नहीं कर लिया जाता है, तब तक के लिए डैडलाइन को आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया है.

WhatsApp पर ये हैं आरोप
गौरतलब है कि WhatsApp पर आरोप लगाया गया है कि नई प्राइवेसी के बाद कंपनी यूजर्स के प्राइवेट डेटा को अपनी पेरेंट कंपनी Facebook के साथ शेयर करेगी. इससे यूजर्स के लिए सही नहीं है. इसके अलावा यूजर्स के डेटा का यूज कैसे किया जाएगा इसको लेकर भी यूजर्स चिंतित हैं.