नाबालिग को जबर्दस्ती उठाकर ले गये, किया दुष्कर्म पुलिस ने चार लोगो.के खिलाफ मामल दर्ज किया - Khulasa Online

नाबालिग को जबर्दस्ती उठाकर ले गये, किया दुष्कर्म पुलिस ने चार लोगो.के खिलाफ मामल दर्ज किया

गजनेर | मध्यप्रदेश के सागर जिले से एक नाबालिग युवती का अपहरण कर उसे बीकानेर के गजनेर में बंधक बनाकर रखा। बंधक रखने के दौर एक युवक ने उसके साथ दुष्कर्म किया। नाबालिग से बाथरूम में छिपकर 108 हैल्पलाइन पर इसकी जानकारी दी। इस पर गजनेर पुलिस ने उसे छुड़ाकर बीकानेर नारी निकेतन को सौंपा। पुलिस ने उसके पर्चा बयान पर जगदीश के खिलाफ दुष्कर्म और अमर व 4 अन्यों के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज करवाया है। थानाधिकारी धर्मेंद्रसिंह ने बताया कि वह 7-8 दिन पहले अपने घर से मोबाइल रिचार्ज करवाने बाहर निकली थी। वापस लौटते समय एक कार मेरे पास आकर रुकी। उसमें छह लोग सवार थे। उन्होंने उसे जबर्दस्ती गाड़ी में बैठा लिया। उसका मुंह हाथ से दबाया जिससे वह बेहोश हो गई। जब उसे होश आया तो उसने अपने आप को कमरे में बंद पाया। जो उसे गाड़ी में डालकर लाए उनकी बातचीत के अनुसार यह गजनेर थाने का गांव था। उस घर में तीन लड़के भी एक औरत थीं। जिन्होंने उसे घर में बंद कर दिया और सभी उसका ध्यान रखने लगे। दूसरे दिन उसने बाथरूम में जाकर अपनी बुआ की लड़की को घटना की जानकारी दी। इसका पता चलने पर वहां मौजूद अमर नाम के लड़के ने उसका मोबाइल छीन लिया। 3-4 दिन उसे घर में ही रखा। एक रात घर में बने कमरे में अमर का भाई जगदीश आया और उसने जबरदस्ती उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके बाद अमर व जगदीश उसे सेरेमिक्स टाइल्स फैक्ट्री के पीछे बने कमरे में ले गए। जगदीश और उसके घर वालों ने उसे कहा कि घर से दो लाख रुपए मंगवा दो। उनके साथ एक व्यक्ति और था जिसे सब सरपंच कहकर बुला रहे थे। उसने भी घर से दो लाख रुपए मंगवाने की बात की थी। एक अप्रैल को जब पीड़िता ने कहा कि घर वालों से बात करा दो तो वह रुपए मंगवा देगी। तो फूला देवी नाम की औरत ने उसे मोबाइल फोन लाकर दिया। इसके बाद पीड़िता ने 181 हेल्पलाइन पर फोन कर अपने हाथ हुई आपबीती सुनाई। वहां से आई टीम उसे बालिका ग्रह बीकानेर ले गए। पुलिस ने अमर, जगदीश व चार अन्य लोगों के ने खिलाफ मामला दर्ज किया है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp