हो जाये सावधान ठगी का आया नया तरीका , भाजपा नेता ठगी के शिकार होते- होते बचे,जियो केयर से हो रहे है डाटा लीक - Khulasa Online

हो जाये सावधान ठगी का आया नया तरीका , भाजपा नेता ठगी के शिकार होते- होते बचे,जियो केयर से हो रहे है डाटा लीक

खुलासा न्यूज बीकानेर। ठगी करने वालों के आगे सब बेकार है सरकार जितनी इन पर रोक लगायेगी यह उतने ही नये तरीके लेकर आयेगी अब जो तरीका आया उसमें तो कोई भी फंस सकता है। हम बात कर रहे है बीकानेर में रहने वाले भाजपा नेता मनीष सोनी जो आज ठगी के शिकार होते होते बाल बचे। उन्होंने अपने घर पर लगे जियो फायबर में कुछ दिक्कत होने पर कस्टमयर केयर को फोन लगाया और अपनी समस्या बताई कस्टमयर केयर ने कहा कि आपकी समस्या को 24 घंटे में समाप्त कर दी जायेगी। लेकिन एक घंटे बाद ही सोनी के पास 918348766502 इन नंबरों से फोन आया है कहा कि मैं जियो कस्टमर केयर से बोल रहा हूं आपकी एक कम्पलेट दर्ज है तो मै अभी सही कर देता हूं आप मुझे कुछ जानकारी दिजिए तो सोनी ने उसने कहा कि उसने चालू फोन में प्ले स्टोर ओपन करने का कहा और उसमें से एप डॉउनलोड करने का कहा मैंने एप डॉउनलोड की उसके बाद उस व्यक्ति द्वारा एप के 6 डिजिट कोड मांगे गए मैंने पूछा इससे क्या होगा तो कहा इससे आपके फोन को हम हमारे सिस्टम पर लेकर चेक करेंगे क्या एरर आ रहा है मैंने वो कोड उस व्यक्ति को दिया उसके पश्चात मेरा मोबाइल उक्त व्यक्ति के कंट्रोल में आ गया और उसने द्व4 द्भद्बश एप ओपन किया और कहा आप इसमें एक बार 10 रुपये का रिचार्ज करे आप रिचार्ज करेंगे तो हमे लोकेशन का पता चलेगा ओर हम उस जगह के सर्वर को ठीक कर पाएंगे मैंने तुरंत हामी भर दी..जब में रिचार्ज करने लगा तो उसको सब दिखाई दे रहा था क्योंकि मेरा मोबाइल उसके सिस्टम पर शो हो रहा था तब उसने तपाक से कहा सर पेटीएम से मत कीजिये थर्ड पार्टी पेमंट में लोकेशन नही आएगा आप डेबिट कार्ड या एटीम कार्ड से रिचार्ज करे। इतना कहते ही सोनी को शक हो गया कि ये ठग है औरअपने साथ ठगी होगी उन्होंने तुरंत फोन बंद करना चाहा लेकिन फोन बंद नहीं हुआ और ना ही सिस्टम से बाहर आ रहा था क्योकि हैकर ने पूरा मोबाइल का सिस्टम अपने पास ले रखा था अगर में डेबिट कार्ड से रिचार्ज करता तो वह नंबर देख लेते और रुपये गायब कर देता। बाद में किसी तरह से फोन बंद करके चालू किया तो मोबाइल का सारा डेटा साफ मिला। आप भी रहे सुरक्षित कही ना हो जाये ठगी के शिकार।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp