अर्हम् ने दी नई सौगात आधी फीस माफ 50 प्रतिशत में मिलेगी पूरी शिक्षा - Khulasa Online

अर्हम् ने दी नई सौगात आधी फीस माफ 50 प्रतिशत में मिलेगी पूरी शिक्षा

बीकानेर। वैश्विक महामारी कोरोना ने पूरी दुनिया को झकझोर दिया है। रोजगार, उद्योग-धंधों से लेकर सभी सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं। लॉकडाउन जैसी परिस्थितियों से देशवासी रुबरु हुए हैं और कालचक्र के गंभीर रूप को भी देखा है। संकट के इस दौर में सेवा के हाथ सभी ने बढ़ाए हैं, इसी क्रम में घर बैठे बच्चों की शिक्षा अनवरत जारी रहे ऐसा प्रयास नोखा रोड स्थित अर्हम् इंग्लिश एकेडमी स्द्गठ्ठद्बशह्म् स्द्गष्शठ्ठस्रड्डह्म्4 स्ष्द्धशशद्य द्वारा किया जा रहा है। अर्हम् के सचिव सुरेन्द्र कुमार डागा ने आयोजित प्रेसवार्ता में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए बताया कि संकटकाल की गंभीरता को समझते हुए इस बार विद्यार्थियों से आधी फीस ही ली जाएगी। डागा ने बताया कि हम सबको सेवा व सहायता के भाव को समझते हुए इस बार अभिभावकों को फीस में 50त्न छूट देकर मानव धर्म निभाना चाहते हैं। 50 व 25 प्रतिशत छूट के साथ शुल्क में कमी शाला प्रबंध निदेशक रमा जैन ने बताया कि इस बार गत वर्ष की फीस में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई है तथा कक्षा नर्सरी से लेकर पांचवीं तक की फीस में 50 प्रतिशत छूट दी गई है। छठी से बारहवीं तक की फीस में 25 प्रतिशत छूट प्रदान की गई है। यह छूट नए एवं पुराने दोनों प्रवेश पर दी जाएगी इसमें किसी भी प्रकार का कोई अतिरिक्त चार्ज नहीं लगेगा 100 प्रतिशत सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध शाला सचिव सुरेन्द्र डागा ने बताया कि कोरोना संक्रमण के चलते सुरक्षा के पुख्ता प्रबन्ध सत्र पर्यंत के लिए किए गए हैं। फुल सेनेटाइजैशन प्लांट के साथ विद्यार्थियों का संक्रमण से बचाव किया जाएगा। डागा ने बताया कि एंट्री गेट से ही विद्यार्थी सेनेटाइज्ड होकर जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सरकारी गाइडलाइन के अनुसार स्कूल का संचालन किया जाएगा द्य खास बात यह है कि बैगलेस कॉन्सेप्ट का अर्हम इंग्लिश अकैडमी में कई वर्षो पूर्व ही प्रारंभ कर दिया था जिसका पूरा फायदा इस संक्रमण के दौर में भी विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को मिलेगा। थर्मल स्कैनर, शूज डिसइनफैक्टर, पैडल हैंड सेनेटाजेशन मशीन, मास्क, बैग डिसइनफैक्टर, ऑटोमेटिक पम्पिंग मशीन से पूरी स्कूल में सेनेटाइजर आदि सब सुरक्षा व्यवस्थाओं के साथ विद्यार्थियों का ख्याल रखा जाएगा। न ही यूट्यूब और न ही डाटा एवं ना मोबाइल की जरूरत होगी शाला सचिव डागा ने बताया कि ऑनलाइन अध्ययन की शुरुआत करके विद्यार्थियों की पहुंच यूट्यूब तक हो गई है, जो कि पढ़ाई के साथ-साथ अन्य अनावश्यक विषयों की ओर भी भटका सकता है। साथ ही दिनभर मोबाइल के आदि होने के दुष्परिणाम हो सकते हैं व इंटरनेट डाटा व बच्चों के लिए अलग से मोबाइल का खर्चा वहन करना इस दौर में बहुत मुश्किल भी है। इन सब परेशानियों को देखते हुए अर्हम् ने नवाचार करते हुए सभी कक्षाओं के नोट्स व अध्ययन के वीडियो की रिकॉर्डिंग पेन ड्राइव में अपलोड कर दी गई है। उक्त पेनड्राइव में एक माह के अध्ययन नोट्स अपलोड करके विद्यार्थियों को प्रदान किए जाएंगे। खास तौर पर डाउट्स क्लियर करने के लिए हर शनिवार को पूरे बारह घंटे अध्यापक व अध्यापिकाएं फोन कॉलिंग पर उपलब्ध रहेंगे ताकि हर विद्यार्थी सप्ताह में अपने डाउट्स क्लियर कर सके। डागा ने बताया कि उक्त पेनड्राइव विद्यार्थियों को प्रदान की जाएगी। यह पेन ड्राइव टीवी, कम्प्यूटर तथा मोबाइल आदि से अटैच हो सकेंगे। इसी के साथ साथ अब स्कूल आपके द्वार अभियान का प्रारंभ किया जा रहा है जिसके तहत विद्यार्थियों के घर पर पढ़ाने की व्यवस्थित योजना बनाई गई है ऑनलाइन शिक्षा चाहने वाले विद्यार्थियों के लिए एप्स के द्वारा ऑनलाइन शिक्षा उपलब्ध रहेगी

error: Content is protected !!
Join Whatsapp