आखिर क्यों बार बार थानाधिकारियों के हो रहे है तबादल चार दिन में तीन बार तबादले, अधिकारियों का स्वागत प्लास्टिक के गुलदस्ते देकर करें - Khulasa Online आखिर क्यों बार बार थानाधिकारियों के हो रहे है तबादल चार दिन में तीन बार तबादले, अधिकारियों का स्वागत प्लास्टिक के गुलदस्ते देकर करें - Khulasa Online

आखिर क्यों बार बार थानाधिकारियों के हो रहे है तबादल चार दिन में तीन बार तबादले, अधिकारियों का स्वागत प्लास्टिक के गुलदस्ते देकर करें

बीकानेर। जिला पुलिस अधीक्षक ने पिछले तीन दिन में थानों के थानाधिकारियों के तबादले दो तीन बार कर दिया। ऐसा पहली बारदेखने को मिल रहा है कि थानाधिकारी के पदभार संभालते ही उनका तबादला कर दिया जाता है। जिसमें महाजन थानाधिकारीराजीव रॉयल ने सुबह अपना पदभार संभाल और शाम को उनको  बाहर का रास्ता दिखा दिया। इसी तरह दो तीन ओरथानेदार है जिनका तबादल दो तीन बार किया गया। राजनीतिक दबाब के चलते इस तरह से तबादलों का मजाक बना है। तभी रात से लेकर सुबह तक करीब दो बार तबादला सूची जा कर रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आईजी व एसपी पर विधायक व मंत्री के अपनी लय के थानेदार व एसआई को लेकर तबादलें बार किये जा रहे है। दूसरा चुनाव आयोग की गाइडलाइन भी जारी हो रखी है उसको ध्यान में रखते हुए तबादला सूची बार बार जारी की जा रही है। डोटासरा ने बीकानेर में कांग्रेस संवाद सम्मेलन के दौरान कहा कि भजनलाल सरकार में अधिकारियों का स्वागत प्लास्टिक फूलों के गुलदस्ते देकर करने चाहिए। उनके कहना का अर्थ था कि

बुके सूखने से पहले ट्रांसफर !
कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए डोटासरा तबादलों को लेकर चुटकियां भी लेते हैं। कुछ ही अवधि के दरम्यान अधिकारियों के होने वाले तबादलों पर वो कहते हैं, कि अपने नए पद पर ज्वाइन करने के बाद अधिकारियों का वहां स्वागत होता है, उन्हें बुके (गुलदस्ते) दिए जाते हैं। लेकिन अब तो जब तक बुके के फूल सूखते नहीं हैं, उससे पहले अधिकारियों का दूसरी जगह तबादले का आदेश निकल पड़ता है। मौजूदा भजनलाल सरकार के अधिकारियों का स्वागत असली फूलों के बजाए प्लास्टिक के नकली फूलों के बुके से करने की नसीहत देते हैं। वो कहते हैं कि अधिकारियों के धड़ाधड़ हो रहे तबादलों को देखकर तो उन्हें प्लास्टिक के फूलों के बुके भेंट करने चाहियें।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26