खुलासा न्यूज़, बीकानेर। राजकीय माध्यमिक विद्यालय की प्रिंसिपल द्वारा छात्राओं को पॉन वीडियो दिखाया गया। इसके बाद मामला जबदस्त गरमा गया। ग्रामीण आक्रोशित हो गए और स्कूल पर तालाबंदी कर दी। ग्रामीणों के बढ़ते विरोध को देख शिक्षा विभाग हरकत में आया और पॉर्न वीडियो दिखाने वाली प्रिंसिपल और पॉर्न वीडियो भेजने वाले शिक्षक को एपीओ कर दिया है।

जानकारी के अनुसार पिछले दिनों गीगासर स्थित राजकीय माध्यमिक विद्यालय के वरिष्ठ अध्यापक अशोक कुमार सोलंकी ने एक अध्यापिका को पॉर्न वीडियो भेजा। इस मामले को लेकर महिला शिक्षिका ने पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाया। इसके अगले ही दिन महिला शिक्षिका ने वही वीडियो बच्चियों को दिखाया। इसकी भनक जैसे ही ग्रामीणों को लगी तो ग्रामीण आक्रोशित हो गए। ग्रामीणों ने स्कूल की तालाबंदी करते हुए धरने पर बैठ गए। इसके बाद शिक्षा विभाग ने कार्यवाही करते हुए दोनों शिक्षकों को एपीओ कर दिया। गौरतलब है कि पोर्न क्लिप भेजनेवाले अध्यापक सोलंकी के खिलाफ जेएनवी थाने में मामला दर्ज है ।दर्ज मामले में शिक्षिका का 164 में बयान भी हो चुके है।

संघर्ष की जीत हुई : एडवोकेट गीगासर
अन्याय के खिलाफ लडऩा ही हमारे साथियों का ध्येय है, ग्राम गीगासर में हुई घटना घोर निंदनीय है। हमने आंदोलन एवं ताला बन्दी की। इसके बाद प्रशासन ने तुरन्त कार्यवाही करते हुए दोनों शिक्षकों को एपीओ किया । संघर्ष की जीत हुई।
– एडवोकेट विजेन्द्र सिंह गीगासर