>


नागौर। जिले के नावां उपखंड क्षेत्र के बावड़ी गांव में मनरेगा कार्य के दौरान तलाई में डूबने से दो महिलाओं सहित एक बालिका की मौत हो गई, जबकि एक युवक सहित दो महिलाओं की स्थिति गंभीर है, जिन्हें मारोठ के सीएचसी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं दूसरी ओर खुनखुना थाना क्षेत्र के शेरानी आबाद के पास मंगलवार देर रात नेशनल हाईवे पर हुए सडक़ हादसे में बाइक सवार दो युवक जिंदा जल गए, जबकि तीसरे युवक की कैम्पर से कुचलने से मौत हो गई। नावां एसडीएम पहुंचे मौके पर शिम्भूपुरा के निकटवर्ती ग्राम बावड़ी में कमरली तलाई में चल रहे मनरेगा कार्य के दौरान बुधवार दोपहर में दो महिलाओं व एक बालिका की डूबने से मौके पर ही मौत हो गई तथा एक युवक व महिला गंभीर रूप से घायल हो गए है, जिन्हें मारोठ रेफर किया गया है। घटना की जानकारी मिलते ही मारोठ थाना एसएचओ दिलीप सहल मय जाब्ते के मौके पर पहुंचे तथा नावां एसडीएम ब्रम्हालाल जाट, तहसीलदार गुरुप्रसाद तंवर आदि को सूचना दी, जिस पर अधिकारी भी मौके पर पहुंचे तथा घटना स्थल का जायजा लिया। जानकारी में आया कि मनरेगा कार्य के दौरान एक महिला फावड़ा धोने के लिए पानी में उतरी, इस दौरान चिकनी मिट्टी में फंसकर डूबने लगी तो दूसरे श्रमिकों ने उसे बचाने का प्रयास किया, इस प्रक्रिया में एक के बाद एक करके छह जने डूब गए, जिनमें से तीन की मौत हो गई, जबकि तीन गंभीर हैं।