राजस्थान में मंत्रिमंडल फेरबदल की तारीख नहीं बताएंगे - Khulasa Online

राजस्थान में मंत्रिमंडल फेरबदल की तारीख नहीं बताएंगे

मंत्रिमंडल फेरबदल और सचिन पायलट कैंप के अनसुलझे मुद्दों पर प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने जल्द फेसला सामने आने का दावा किया है लेकिन उसकी तारीख बताने से इनकार कर दिया। मंत्रिमंडल में लगातार हो रही देरी के सवाल पर अजय माकन ने कहा, अब समय तय होना है, इसकी टाइमिंग पार्टी तय करेगी। मैं सबके संपर्क में हूं। अशोक गहलोत, सचिन पायलट सहित सभी नेताओं के लगातार संपर्क में हूं। हाईकमान जो कदम उठा रहा है उसके बारे में उन्हें बता दिया है। वर्क इन प्रोग्रेस, फैसला जल्द लिया जाएगा, मुझसे तारीख मत पूछिए।

माकन ने कहा,आप सोचते हैं कि मंत्रिमंडल विस्तार में देरी हो रही है लेकिन वह हमारी रणनीति है। हम जानते हैं हमें कब क्या करना है? क्या आपने किसी को खुलकर विरोध में अलग आवाज उठाते देखा है? नहीं देख न। पूरी तरह शांति है,चुप्पी का करण यही है कि हम पहले से ही मुद्दों का समाधान कर चुके हैं, आप भी जल्द ही इसके बारे में जान जाएंगे। पार्टी में साइलेंस हो रहा है तो कुछ क्रेडिट कांग्रेस हाईकमान को देना चाहिए। चुप्पी इसलिए है कि क्योंकि वर्क इन प्रोग्रेस। मंत्रिमंडल फेरबदल में देरी का करण बताते हुए माकन ने कहा- राजस्थान एक बहुतबड़ा राज्य है, वहां इलाकेवार,जातीवार समीकरणों का ध्यान रखना होता है। जैंडर बैलेंस भी करना होता है, इसके अलावा भी बुहत से फैक्टर्स का ध्यान रखना होता है, इसका काम चल रहा है।

जो नाराजगी थी पायलट ने वह हमें बता दी, उस पर हम काम कर रहे हैं सचिन पायलट की नाराजगी पर पूछे गए सवाल के जवाब में अजय माकन ने कहा-कभी सचिन पायलट को पार्टी के खिलाफ बयान देते सुना है क्या, वे तो हमेशा हर जगह कहते हैं कि उन्हें कांग्रेस की विचारधारा में विश्वास हैं। कांग्रेस के लिए सब जगह जाकर पायलट कैंपेनिंग करते हैं। उन्हें पायलट को जो नाराजगी थी वह उन्होंने आपको भी बता दी, हमें भी बता दी, उस पर हम काम कर रहे हैं। तो कहीं ऐसी दिक्क्त नहीं है। राजस्थान में सब चीजें अंडर कंट्रोल है और हम सबको साथ लेकर चल रहे हैं।

अजय माकन ने 28-29 जुलाई को विधायकों से लिया था फीडबैक अजय माकन ने 28-29 जुलाई को जयपुर में कांग्रेस विधायकों से वन टू वन फीडबैक लिया था। विधायकों से फीडबैक के बाद अजय माकन ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पूरी रिपोर्ट सौंपी थी। माकन की रिपोर्ट में मंत्रियों और सरकार के कामकाज पर विधायकों के फीडबैक के साथ आगे के एक्शन प्लान पर भी ब्यौरा था। अजय मासकन के फीडबैक के बाद सियासी हलकों में जल्द मंत्रिमंडल फेरबदल की चर्चाएं चलीं लेकिन अभी तक तारीख के बारे में खुलासा नहीं हो रहा है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp