पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर किया पति का मर्डर, नींद की गोलियां खिलाकर घर बुलाया, 24 घंटे में तीनों आरोपी गिरफ्तार - Khulasa Online पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर किया पति का मर्डर, नींद की गोलियां खिलाकर घर बुलाया, 24 घंटे में तीनों आरोपी गिरफ्तार - Khulasa Online

पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर किया पति का मर्डर, नींद की गोलियां खिलाकर घर बुलाया, 24 घंटे में तीनों आरोपी गिरफ्तार

खुलासा न्यूज नेटवर्क। हनुमानगढ़ टाउन में हुई हत्या का पुलिस ने 24 घंटे में ही खुलासा करते हुए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। कोचिंग स्टूडेंट से प्यार होने पर पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर एक युवक को 50 हजार रुपए में पति का मर्डर करने की सुपारी दे दी। इसके बाद दूध में नींद की गोलियां मिलाकर पति को पिला दिया और फोन कर प्रेमी और सुपारी लेने वाले युवक को घर बुलाया। इसके बाद आरोपियों ने पति पर चाकू से वार किया और तकिये से मुंह दबा दिया। इसके बाद गले में चुनी का फंदा लगाकर लटका दिया। मामला हनुमानगढ़ के टाउन कस्बे का है। पुलिस ने 24 घंटे में ही हत्या का खुलासा करते हुए तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार, दक्षिण 24 परगना जिला पंश्चिम बंगाल निवासी गोविन्द प्रसाद खेमका (72) पुत्र पुरूषोतम प्रसाद खेमका ने रिपोर्ट दी की उसका पुत्र सुनील कुमार खेमका निवासी रामसिंह कॉलोनी हनुमानगढ़ टाउन अपने मकान में पत्नी शिल्पा खेमका और बच्चों के साथ रहता था। परिवादी का पुत्र ई रिक्शा में सब्जी बेचने का काम करता था। रिपोर्ट में बताया कि 19 अक्टूबर को मेरे बेटे सुनील के ससुर किशन ने फोन करके बताया कि सुनील अब इस दुनिया में नहीं रहा। जब कारण पूछा तो बताया कि अपने कमरे में गले में फंदा डाला हुआ मृत अवस्था मिला था। उसके शरीर और बेड पर खून के निशान हैं। इस पर 20 अक्टूबर को कोलकाता से अपने अन्य पारिवारिक लोगों के साथ पहुंचा। पुलिस ने रिपोर्ट के आधार पर हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया।

टाउन पुलिस के अनुसार थाने में सूचना मिली थी कि सुनील कुमार खेमका निवासी राम सिंह कॉलोनी पंजाबी मोहल्ला टाउन ने अपने मकान मे आत्महत्या कर ली है। जिस पर हम पुलिस टीम सहित पहुंचे और मौका निरक्षण किया।पुलिस को हत्या का लगा संदेह तो एसपी को बताई सारी बात सीआई वेदपाल ने बताया कि जब मौके पर पहुंच घटनास्थल का निरक्षण किया तो मामला आत्महत्या नहीं बल्कि प्लानिंग हत्या जैसा प्रतीत हुआ। घटना के बारे में पुलिस अधीक्षक डॉ. राजीव पचार को सारी बात बताई तो उन्होंने तुंरन्त एएसपी बनवारी लाल व सीओ सिटी अरविंद बेरड़ को मौके पर भेजा, जिसके बाद परिजनों को सूचित कर पुलिस ने बॉडी को जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया।

पुलिस ने बताया कि मौके पर ही पुलिस टीम ने साक्ष्य एकत्रित किए और एफएसएल टीम, डॉग स्काव्यड व एमओबी टीम को बुलाकर पुरे मकान का बारीकी से निरीक्षण किया गया। घटना से जुड़े सभी साक्ष्य एकत्रित कर पुलिस ने जांच शुरू की। पुलिस टीम ने जब मृतक सुनील की पत्नी से घटना के सम्बंध में पूछताछ शुरू की तो उसने घटना के समय अपने बच्चे के साथ अलग सोने की बात पुलिस को बताई। इस बात से पुलिस को पत्नी पर हल्का संदेह हो गया, जिसके बाद पुलिस ने तकनीकी डाटा विश्लेषण, मानवीय आसूचना और अन्य जानकारियों को एकत्रित किया तो शक ओर गहरा हो गया। पुलिस को अपनी जांच के आधार पर मृतक की पत्नी की भूमिका संदिग्ध लगी, जिसके बाद दो अन्य संदिग्ध व्यक्ति मोहम्मद शकील और यादविन्द्र सिंह का शामिल होना पाया। तीनों को पुलिस ने डिटेन कर पूछताछ की तो तीनों ने हत्या कर आत्महत्या जैसा दिखाने के लिए फंदे से लटकाने की बात स्वीकार कर ली, लेकिन इस दौरान जो खुलासा हुआ उससे पुलिस हैरान रह गई।

 

मृतक की पत्नी को कोचिंग स्टूडेंट से हो गया था प्यार

पुलिस ने बताया की पुलिस की पूछताछ में सामने आया कि मृतक की पत्नी शिल्पा खेमका का कोचिंग स्टूडेंट मोहम्मद शकील से प्यार चल रहा था। युवक शकील फोरच्यून कोचिंग सेन्टर धानमडी हनुमानगढ़ टाउन मे आईलेटस (विदेश जाने के लिए) की तैयारी कर रहा था। इसी कोचिंग सेंटर में शिल्पा रिसेप्शन पर ड्यूटी किया करती थी। इसी दौरान आपस मे जान पहचान हो गई। इसके बाद शकील का शिल्पा के साथ कैफे में मिलना जुलना शुरू हो गया। इसके बाद युवक और शिल्पा का अवैध सम्बंध बन गए।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26