लुटेरी दुल्हन का शिकार बने फौजी और व्यापारी - Khulasa Online

लुटेरी दुल्हन का शिकार बने फौजी और व्यापारी

दो बच्चों के पिता और रिटायर्ड फौजी को लूटकर भागने वाली दुल्हन का एक और कारनामा सामने आया है। मामला सीकर का है। फौजी को ठगने से पहले इस लड़की ने सीकर के एक किराना व्यापारी को प्यार के जाल में फंसाया था। उसे अपनी उम्र 30 साल बताई थी। सगाई में कीमती सामान लेने के बाद युवती के परिवार ने शादी से मना कर दिया था। बाद में बदनाम करने की धमकी देने लगे थे। व्यापारी ने इज्जत बचाने के लिए व्यापारी ने चुप रहना ही बेहतर समझा।

महिला की ठगी की खबरें और उसकी फोटो देखने के बाद सीकर का ये पीड़ित जयपुर में दूसरे पीड़ित फौजी से मिलने पहुंचा। तब लुटेरी दुल्हन का पूर्व कारनामा सामने आया। सीकर के पीड़ित द्वारा पुलिस में कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई गई है। दूसरे पीड़ित फौजी का कहना है कि महिला की उम्र 30 से ज्यादा है।

लड़की बोलीं- बस लड़का शरीफ और अच्छा चाहिए, जाति से कोई मतलब नहीं सीकर में रहने वाले युवक की किराना दुकान है। परिवार के लोग उसकी शादी के लिए अच्छी लड़की तलाश कर रहे थे। तभी खंडेला में काम करने वाली एक नर्स पीड़ित युवक की मां के संपर्क में आई। उसने बातचीत में एक अच्छी लड़की नजर में होना बताई। इसके बाद कुछ फोटो दिखाकर मुलाकात करवाई।

पीड़ित युवक का आरोप है कि लड़की ने अपना नाम रेखा बताया। उसने कहा कि वह जयपुर में अकेली रहती है। युवक से करीब आठ साल बड़ी लड़की ने अपनी उम्र भी कम बताई। इसके बाद कुछ दिनों की बातचीत में अपने सुंदर फोटो भेजकर नजदीकियां बढ़ाईं। लड़की ने कहा कि मुझे दूसरी जाति में शादी से कोई मतलब नहीं है। बस, लड़का अच्छा और शरीफ चाहिए। तब मई-जून 2020 में परिवार के लोगों ने लड़की को अपने घर बुलाकर युवक से सगाई कर दी। तब युवक के परिवार ने लड़की को नकदी व आभूषण सहित अन्य कीमती उपहार दिए।

सगाई के बाद संपत्ति बेचकर जयपुर में शिफ्ट होने का दबाव डाला सगाई के बाद से ही शातिर लड़की ने पीड़ित युवक पर सीकर में उनकी संपत्ति को बेचकर जयपुर में बसने का दबाव डालना शुरू कर दिया। उसे उसकी बहनों के खिलाफ बातें करना शुरु कर दिया। एक बार लड़का भी गुमराह हो गया। तब युवक के मामा को लड़की की बातों पर संदेह हुआ। ऐसे में अक्टूबर 2020 में होने वाली शादी से मना कर दिया। इसके बाद लड़की ने युवक को बदनाम करने की धमकियां देना शुरू कर दिया। दुष्कर्म का केस दर्ज कराने की धमकी भी दी और सामान हड़प लिया। बदनामी के डर से पूरा परिवार सदमे में आ गया, वे थाने भी नहीं पहुंचे। जयपुर के एक फौजी से इसी दुल्हन ने शादी की, फिर तीसरे दिन ही जेवर समेटकर भाग निकली रेखा नाम की इसी लड़की ने जयपुर के हरमाड़ा में रहने वाले सेवानिवृत्त फौजी रामदयाल से इसी साल अप्रैल में शादी कर ली, फिर बच्चों से मारपीट कर शादी के तीसरे दिन ही कीमती सामान समेटकर भाग निकली। फौजी रामदयाल की शादी भी दलाल श्यामसुंदर ने रेखा करवाई थी। कैंसर से पत्नी की मौत के बाद दो बच्चों के पिता पीड़ित रामदयाल को उनकी परवरिश की चिंता हुई। बच्चों को मां का प्यार मिल सकें।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp