REET पेपर लीक केस: दोबारा परीक्षा कराने की याचिका पर हाईकोर्ट ने 5 अफसरों को नोटिस भेजा

REET-2021 में नकल और पेपर लीक की जांच CBI से कराने पर राजस्थान हाईकोर्ट ने राजस्थान सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। हाईकोर्ट ने शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव, DGP, प्रारम्भिक शिक्षा के निदेशक, राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर के सचिव और SOG के ADG को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। केस पर अगली सुनवाई 27 अक्टूबर 2021 को होगी।

REET पेपर आउट और नकल को लेकर मधु कुमारी नागर व अन्य की याचिका REET पेपर आउट और नकल के मामले में राजस्थान सरकार की ओर से निष्पक्ष जांच नहीं करने को लेकर लगी याचिका पर कोर्ट ने ये नोटिस जारी किए हैं। साथ ही याचिका की कॉपी एएजी और बोर्ड के वकील को भी दिलवाई गई है। राजस्थान हाईकोर्ट के जस्टिस इंद्रजीत सिंह की कोर्ट ने मधु कुमारी नागर व अन्य की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सरकार को ये नोटिस जारी किए हैं।

याचिकाकर्ता के वकील की ओर से कोर्ट में यह दी गई दलीलें याचिका में हाईकोर्ट से केस की जांच सीबीआई या राजस्थान से बाहर की दूसरी किसी जांच एजेंसी से करवाने के साथ ही जांच में पेपर लीक पाए जाने या गड़बड़ी होना पाए जाने पर रीट परीक्षा दोबारा करवाने की मांग की है। मामले में याचिकाकर्ताओं की पैरवी कर रहे एडवोकेट रामप्रताप सैनी ने कोर्ट को बताया कि 26 सितम्बर को माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान ने REET करवाई थी। उस दिन दो पारियों में पेपर था, पहली पारी सुबह 10 बजे से थी। पेपर सुबह 8.30 बजे के करीब ही गंगापुर सिटी सवाईमाधोपुर में राजस्थान पुलिस के कॉन्स्टेबल देवेंद्र सिंह के पास पाया गया। उसने पैसे लेकर कई लोगों को वह पेपर बेच दिया।

गंगापुर सिटी में एफआईआर नम्बर 402 भी दर्ज हुई है। राजस्थान में कई पुलिस थानों में FIR दर्ज हुई हैं। उन्होंने कोर्ट से गुहार लगाई कि पेपर आउट और नकल के कारण योग्य अभ्यर्थी चयनित होने से रह जाएंगे, जो योग्य नहीं हैं ऐसे अभ्यर्थियों को पहले ही पेपर मिल जाने के कारण उनका चयन हो जाएगा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp