REET-2021 का पेपर लीक हुआ, वायरल नहीं: RBSE चेयरमैन ने दी सफाई

REET-2021 को लेकर भाजपा से राज्यसभा सांसद किरोडीलाल मीणा की ओर से लगाए गए आरोप के बाद राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के चेयरमैन डॉ. डी.पी. जारोली ने पत्रकारवार्ता बुलाकर सफाई दी है। जारोली ने इस दौरान यह भी माना कि REET-2021 का पेपर लीक हुआ है, लेकिन वायरल नहीं। यह केवल चार लोगों तक सीमित था। जिनको गिरफ्तार कर लिया है। बोर्ड में कोई गोपनीयता भंग नहीं की। सांसद के आरोप निराधार है।

जारोली ने यह भी कहा कि दिल्ली दरबार को खुश करने के लिए सांसद मीणा मर्यादा त्याग रहे हैं। दिल्ली से जो सीखकर आए हैं, उसे राजस्थान पर नहीं आजमाए। आने वाला वक्त शायद माफ नहीं करेगा। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीष पूनिया, मीणा सहित केन्द्र सरकार को जमकर कोसा। उन्होंने कहा कि भाजपा के पढे़ लिखे ही नहीं बल्कि पढे़ लिखे के साथ ईमानदारी से राजनीति करने वालों को आह्वान करूंगा कि वे प्रदेश के करोड़ों लोगों की आंकाक्षा पर पानी फेरने में सहयोग नहीं करें।

बोर्ड के लॉकर में सुरक्षित हैं उत्तरतालिका

जारोली ने कहा कि भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा ने रीट प्रश्न पत्रों के लीक होने और उसका दायित्व बोर्ड की गोपनीय शाखा के माथे मढ़ा। यहां यह स्पष्ट करना चाहुंगा कि बोर्ड ने 23 सितम्बर को सारे प्रश्न पत्र जिला स्तर पर गठित जिला परीक्षा संचालन समिति, जिसके अध्यक्ष कलक्टर होते है, को भली-भाति सौंप दिए थे। जिन्हें भारी सशस्त्र गार्ड की सुरक्षा में रखा।

26 सितम्बर को परीक्षा आयोजन तिथि को सुबह 6 बजे से सशस्त्र सुरक्षा गार्ड के साथ राज्य में रीट परीक्षा के लिए गठित 3993 परीक्षा केंन्द्रों के लिए रवाना किया। रीट कंट्रोल रूम को इस समय तक पूरे राज्य में कहीं भी प्रश्न पत्रों के खुलने लीक होने की सूचना प्राप्त नहीं हुई। इसी तरह जिस उत्तर तालिका के बोर्ड के गोपनीय शाखा से लीक होने की बात सांसद द्वारा कही जा रही है वह उत्तर तालिका आज दिनांक तक कहीं भी प्रेषित नहीं कि गई और मूल उत्तर तालिका बोर्ड के लॉकर में आज तक सुरक्षित है। यह कहना कदापि सही नहीं है कि रीट की अधिकृत उत्तरतालिका मोबाइल पर वायरल हुई।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp