पायलट कैंप निशाने पर, कांग्रेस में फूट पर बोले CM

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कांग्रेस में फूट और पहले सरकार और संगठन में तालमेल नहीं रहने की बात सार्वजनिक रूप से मानी। कांग्रेस के ट्रैनिंग कैंप के उद्घाटन सत्र में गहलोत ने इशारों में पायलट कैंप को निशाने पर लेने के साथ इशारों में यह भी संकेत दिए कि पहले तालमेल नहीं था।सीएम अशोक गहलोत ने कहा अगर यही भावना रहती है सत्ता-संगठन में तो यह पहला प्रयोग प्रयोग होगा। हमेशा क्या होता है कि सत्ता संगठन में समन्वय नहीं रहता है तो सरकार और संगठन चाहे कितना ही अच्छा काम कर लें जनता तक मैसेज नहीं जाता। गांव-गांव में चर्चा चल रही होती है कि आपस में बनती नहीं है, झगड़े हो रहे हैं। गांव- गांव में इस किस्म की बातें हो जाती हैं कि चुनाव आते-आते हमारा कार्यकर्ता निराश हो जाता है। कार्यकर्ता ही पार्टी रीढ की हड्डी होता है। वह जो काम कर सकता है वह करोड़ों के विज्ञापन से नहीं होता। गहलोत बाड़ा पदमपुरा में कांग्रेस के तीन दिन के ट्रैनिंग कैंप के उद्घाटन में बोल रहे थे।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp