>

खुलासा न्यूज,बीकानेर। पेट्रोल व डीजल के दामों में हो रही बढ़ोत्तरी के खिलाफ कांगे्रस व उनके अग्रिम संगठनों का विरोध निरन्तर जारी है। जिसको लेकर अलग अलग तरीकों से प्रदर्शन कर ध्यान आक र्षित किया जा रहा है। जहां कभी ऊंट गाड़ों पर तो कभी मोटरसाइकिल जलाकर विरोध जताया गया तो वहीं सोमवार को डिजीटल पेट्रोल पंप को फूंककर विरोध दर्ज करवाया गया। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र बैरड़ के नेतृत्व में राजकीय डूंगर महाविद्यालय के बाहर पेट्रोल पम्प का डेमा तैयार कर उसमें आग लगाकर बढ़ी कीमतों को वापस लेने की मांग की गई। इस दौरान केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष जताया। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र बैरड ने कहा कि केन्द्र सरकार की विफल आर्थिक नीतियों और कुप्रशासन के कारण बेलगाम होती मंहगाई ने आमजन की कमर तोड़ दी है। एक तरफ कोरोना जैसी महामारी से जनता आर्थिक मार झेल रही है। वहीं प्रतिदिन बढ़ते पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के दाम कोढ़ में खाज का काम कर रही है। कुलदीप विश्नोई ने कहा कि पेट्रोल व डीजल के केन्द्र सरकार की ओर से लगातार दाम बढ़ाए जा रहे है। जिसका असर खाद्य पदार्थों की दरों पर भी पड़ रहा है तथा हर वस्तु महंगी हो रही है। केन्द्र सरकार की नीतियों के चलते आमजन महंगाई से त्रस्त व परेशान है। इस मौके पर अशोक बुडिय़ा,श्रवण जाखड़, श्रीकोलायत अध्यक्ष रामदयाल बेनीवाल,श्रीकृष्ण गोदारा,रामनिवास गोदारा,प्रमोद विश्नोई,मनीष डूडी,मनोज मूंड,दीतेश,सुरेन्द्र विश्नोई,अरूण थोरी,बालकिशन नैण,महेन्द्र डूडी,प्रफुल्ल हटीला सहित एनएसयूआई के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने इस मौके पर जमकर केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रधानमंत्री से महंगाई को कम करने की मांग की।