होटल संचालक बच्चों से करवा रहे थे ये काम पुलिस ने की कार्यवाही

बीकानेर। रोडवेज बस स्टेण्ड के सामने स्थित अन्नपूर्णा मिष्ठान भंडार व प्रेम फूड इंडस्ट्रीज के मालिकों को बाल श्रम करना महंगा पड़ा गया है। ए.एच.टी.यू. पुलिस निरीक्षक प्रभारी किशनसिंह ने कार्रवाई करते हुए रोड़वेज बस स्टेण्ड स्थित अन्नपूर्णा मिष्ठान भंडार के मालिक राजेश गहलोत पुत्र नेमीचंद गहलोत ने रेस्टोरेंट में नाबालिग लेखराम पुत्र गोविंदराम सियाग (14) निवासी कुनपालसर डूंगरगढ़ को काम पर लगा रखा था। शिकायत मिलने पर पहुंचे किशनसिंह ने कार्रवाई करते हुए रेस्टोरेंट मालिक पर धारा बाल श्रम (प्रतिषेध औरविनियम) अधिनियम 1986, 3,7,11,14 किशोर संरक्षण (बालको की देखरेख) अधिनियम 2015 की धारा 79 व 374 के तहत कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज किया गया। वहीं दूसरी कार्रवाई रोडवेज बस स्टेण्ड के सामने स्थित प्रेम फूड इण्डस्ट्रीज में नाबालिग लखी पुत्र रामदेव मंंडल (14) निवासी बिहार से काम करवाय जा रहा था। ए.एच.टी.यू. पुलिस प्रभारी किशनसिंह ने कार्रवाई करते हुए रेस्टोरेंट मालिक रमेश राजपुरोहित पुत्र गोपीकिशन पुरोहित निवासी हनुमान हत्था पर धारा बाल श्रम (प्रतिषेध औरविनियम) अधिनियम 1986, 3,7,11,14 किशोर संरक्षण (बालको की देखरेख) अधिनियम 2015 की धारा 79 व 374 के तहत कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज किया गया।
error: Content is protected !!