बिहार में नीतीश सरकार का फ्लोर टेस्ट कल, पार्टियों ने अपने-अपने विधायकों की तगड़ी बाड़ेबंदी की - Khulasa Online बिहार में नीतीश सरकार का फ्लोर टेस्ट कल, पार्टियों ने अपने-अपने विधायकों की तगड़ी बाड़ेबंदी की - Khulasa Online

बिहार में नीतीश सरकार का फ्लोर टेस्ट कल, पार्टियों ने अपने-अपने विधायकों की तगड़ी बाड़ेबंदी की

खुलासा न्यूज नेटवर्क। बिहार में नीतीश सरकार का सोमवार (12 फरवरी) को फ्लोर टेस्ट है। इससे पहले यहां सियासी हलचल तेज हो गई है। बीजेपी, आरजेडी, जेडीयू, कांग्रेस, लेफ्ट और हम पार्टी ने अपने-अपने विधायकों की तगड़ी बाड़ेबंदी की है। इसी बीच, पूर्व सांसद आनंद मोहन के छोटे बेटे अंशुमन आनंद का एक पुलिस कंप्लेन सामने आई है। इसमें लिखा गया है कि उनके बड़े भाई और आरजेडी विधायक चेतन आनंद कल से गायब हैं। बता दें कि तेजस्वी के बंगले पर राजद-कांग्रेस-लेफ्ट के विधायक डेरा जमाए हुए हैं। चेतन आनंद भी यहीं मौजूद हैं।

इस कंप्लेन के बाद तेजस्वी यादव के आवास पर पुलिस बल के साथ सिटी एसपी चंद्र प्रकाश और एसडीएम पहुंचे, लेकिन महागठबंधन समर्थकों ने बंगले से बाहर निकाल दिया। तेजस्वी के आवास में जिला प्रशासन के लोग प्रवेश करना चाह रहे थे, जिसका विरोध राजद समर्थकों ने किया। कांग्रेस के विधायक सिद्धार्थ ने कहा कि चेतन आनंद अपनी मर्जी से तेजस्वी यादव के आवास पर रह रहे हैं। राजद समर्थकों ने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार राजद विधायकों को प्रशासन के जरिए डरा-धमकाकर तोडऩे की कोशिश में हैं। समर्थकों के आक्रोश के कारण प्रशासन के लोग अंदर प्रवेश नहीं कर पाएं।

कई समर्थक तेजस्वी के आवास के बाहर जमीन पर ही बैठ गए। उन्हें समझाने के लिए राजद नेता सुनील कुमार सिंह, शक्ति सिंह यादव, कारी सोहैब सामने आए। इसके बाद, कांग्रेस के कई विधायक तेजस्वी यादव के आवास से कार पर बैठकर बाहर निकलने लगे हैं। वहीं, लालू यादव महागठबंधन के विधायकों के साथ डटे हुए हैं। इधर, दो दिन से गया के होटल में रुके बीजेपी के सभी विधायक आज तीन बसों में पटना पहुंच गए है। विधायक डिप्टी सीएम विजय कुमार सिन्हा के आवास पर रात्रि भोज में शामिल होने के लिए पहुंचे हैं। विधायकों के साथ बिहार प्रभारी विनोद तावड़े भी मौजूद हैं।

इससे पहले, मंत्री विजय चौधरी के आवास पर जेडीयू विधायकों की बैठक डेढ़ घंटे तक चली। बैठक में 4 विधायक नहीं पहुंचे हैं। चारों विधायक बीमा भारती, संजीव सिंह, दिलीप राय और सुदर्शन शनिवार को भी मंत्री श्रवण कुमार के बंगले पर आयोजित भोज में नहीं पहुंचे थे। रूपौली विधायक बीमा भारती का मोबाइल स्विच ऑफ है।

बैठक खत्म होने के बाद विजय चौधरी ने कहा कि सीएम हम हर हाल में बहुमत हासिल करेंगे। जो 2 या 3 विधायक नहीं आए हैं, उन्होंने पार्टी को विधिवत सूचना दी है। कल सबसे पहले राज्यपाल का अभिभाषण होगा। फिर विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आएगा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26