राजस्थान में किसानों ने नहीं कराया आधार कार्ड से सत्यापन, नहीं मिलेगी 15वीं किस्त - Khulasa Online राजस्थान में किसानों ने नहीं कराया आधार कार्ड से सत्यापन, नहीं मिलेगी 15वीं किस्त - Khulasa Online

राजस्थान में किसानों ने नहीं कराया आधार कार्ड से सत्यापन, नहीं मिलेगी 15वीं किस्त

सीकर। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए ईकेवाईसी नहीं कराने वाले किसानों का योजना के तहत मिलने वाली पन्द्रहवीं किश्त का भुगतान अटक सकता है। इकेवाईसी करवाने के लिए अंतिम तिथि बार-बार बढ़ाए जाने के बावजूद किसान रुचि नहीं दिखा रहे हैं।
प्रदेश में ऐसे किसानों की संख्या 12,74, 972 और सीकर जिले में 39238 है। अधिकारियों की माने तो ऐसे किसान वे हैं जो योजना के तहत पात्रता की शर्तें पूरी नहीं कर रहे हैं और ऐसे में विभाग ने इन किसानों की सूची बैंक और तहसील स्तर पर भिजवाई है लेकिन वहां से जवाब नहीं आ रहा है।
पात्रता के दायरे में नहीं आने से व सम्मान निधि की राशि की वसूली से बचने के लिए ये किसान जानबूझकर इकेवाईसी करवाने से दूरी बना रहे हैं। ऐसे में विभाग की मंशा अब इन अपात्रों किसानों के नाम योजना से हटाने की है।
अपात्रों ने करवाया पंजीयन
योजना की शुरूआत में कई किसानों ने अपात्र होने के बावजूद पंजीयन तो करवा कर कई किस्त का भुगतान भी ले लिया। सरकार ने सम्मान राशि की पात्रता के लिए आधार और भूमि के दस्तावेजों की सिडिंग अनिवार्य कर दी गई। ऐसे लोगों से वसूली के आदेश जारी कर दिए गए। जब पात्रता के लिए सत्यापन किया तो कई लोग अपात्र निकले। कई अपात्रों ने सम्मान निधि की राशि वापस जमा भी करवा दी। किसान सम्मान निधि योजना के तहत चार-चार माह के अंतराल पर दो-दो हजार रुपए सम्मान राशि दी जाती है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26