बम बनाते समय हुआ विस्फोट, पांच किलोमीटर का इलाका दहल उठा, 12 लोगों की मौत - Khulasa Online

बम बनाते समय हुआ विस्फोट, पांच किलोमीटर का इलाका दहल उठा, 12 लोगों की मौत

बिहार. बिहार के भागलपुर में बम बनाते समय हुए विस्फोट में 12 लोगों की मौत हो गई है। शहर के काजवली चक इलाके में गुरुवार रात करीब 11.30 बजे बम फ टने से चार घर ढह गए। इनके मलबे में लोग अब भी फं से हुए हैं। इन्हें निकालने की कोशिश की जा रही है। सुबह पौने 12 बजे तक 12 शव निकाले गए हैं। विस्फोट में 11 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इनका इलाज चल रहा है। पुलिस को मलबे से 5 किलो बारूद और काफी संख्या में लोहे की कीलें मिली हैं। इस वजह से पुलिस बम ब्लास्ट के एंगल से भी जांच कर रही है। कुछ ही दिनों पहले आईबी ने भी भागलपुर पुलिस को अलर्ट किया था। विस्फ ोट से करीब 5 किलोमीटर का इलाका दहल उठा। दस हजार परिवार पूरी रात दहशत में गुजारी। घटना पर पीएम मोदी ने भी शोक जताते हुए ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा बिहार के भागलपुर में धमाके से हुई जनहानि की खबर पीड़ा देने वाली है। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं। घटना से जु़ड़े हालातों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी से भी बात हुई। प्रशासन राहत और बचाव कार्यों में लगा हुआ हैए और पीड़ितों को हर संभव सहायता दी जा रही है।श् भागलपुर एसएसपी बाबूराम ने कहा कि यहां तीन लोग पटाखा बनाने का काम करते थे। इसी में अचानक विस्फोट होने से आसपास के चार मकान गिरने और मलबे में लोगों के दबने से मौतें हुई हैं। कुछ लोगों ने बताया है कि लीलावती देवी के मकान में विस्फोट हुआ है। एफएसएल की टीम जांच कर रही है। पूरी रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा कि विस्फोटक किस तरह का था। तेजी से हटाया जा रहा मलबा घायलों का इलाज भागलपुर के मायागंज अस्पताल में चल रहा है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अफ सर घटनास्थल पर पहुंच गए। जमींदोज हुए मकानों के मलबे को हटाने का काम चल रहा है। विस्फोट के दौरान मौजूद पड़ोसी निर्मल साह उर्फ लड्डू ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य खाना खाकर घर में सो रहे थे। वह भी घर के बाहर बैठे थे तभी तेज धमाका हुआ। ई-रिक्शे से कई लोगों को अस्पताल पहुंचाया धमाका होने के बाद घर में जैसे ही लोग देखने के लिए अंदर घुसे घर गिरना शुरू हो गया। परिवार के सभी सदस्य मलबे में दब चुके थे। घटनास्थल पर बहुत धुंआ हो जाने से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। किसी तरह कुछ लोगों को ई.रिक्शे से ले जाकर मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया। घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत है। काजवली चक में बम ब्लास्ट से कई घरों को भी नुकसान पहुंचा है। किसी की छत गिर गई है। किसी की खिड़की में लगा शीशा टूट गया है। वहीं, स्थानीय रमेश कुमार ने बताया कि इतनी जोरदार आवाज के साथ ब्लास्ट हुआ कि पहले कभी भी इतनी जोर से आवाज नहीं हुआ था। ब्लास्ट होने के बाद सड़कों पर पूरी तरह से बारूद का धुआं भर गया। बम डिस्पोजल टीम मौके पर पहुंची बाबूराम ने रात की घटना पर अपडेट किया है। उन्होंने बताया कि अभी तक 5 लोगों की डेड बॉडी मिल चुकी है। घटना में घायल 11 लोगों का इलाज जारी है। घटना का कारण सम्भवत: पटाखा मटेरिल में विस्फोट है। अभी तक जो जानकारी मिली है कि पीड़ित परिवारों में से एक परिवार पटाखा बनाने का काम करता था। जिसके घर मे पहले भी विस्फोट की घटना हो चुकी है। उसी के घर मे विस्फोटक पदार्थ में विस्फोट हुआ प्रतीत होता है। बम डिस्पोजल टीम और थ्ैस् की टीम के निरीक्षण के बाद स्थिति कुछ ओर स्पष्ट हो सकेगी। कोलकाता में हुई थी दो गिरफ्तारी हाल ही में भागलपुर के दो शख्स को विस्फोटक समान के साथ कोलकाता पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसको लेकर भागलपुर में कई जगह पर निशानदेही पर छापेमारी की गई थी। सूत्रों के मुताबिक प्ठ की टीम ने भागलपुर पुलिस को अलर्ट किया था। कुछ दिनों पहले ही भागलपुर के नाथनगर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या दो पर डेटोनेटर बम बरामद किया गया था। इसके बाद नाथनगर रेलवे स्टेशन के करीब रेलवे ट्रैक किनारे जोरदार बम ब्लास्ट में एक व्यक्ति की मौत हुई थी। भागलपुर के क्ड सुब्रत कुमार ने कहा कि सभी अधिकारी जांच कर रहे हैं। घटना को लेकर बताया कि अभी रेस्क्यू चल रहा है। इससे पहले भागलपुर के काजवली चक, बबरबगंज, हबीबपुर, बरारी आसानंदपुर समेत कई इलाकों में बम विस्फोट की घटना घट चुकी है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp