लेडी इंस्पेक्टर के बाद बीकानेर में एएसआई ने तस्कर को भगाया! , नाराज एसपी ने किया संस्पेंड

खुलासा न्यूज, बीकानेर। तस्करों से सांठगांठ के मामले में सिरोही के बरलूट थाने की महिला एसएचओ सीमा जाखड़ को निलंबित करने के बाद अब बीकानेर जिले में एक एएसआई को सस्पेंड किया है। नाराज एसपी योगेश कुमार यादव ने दंतौर पुलिस थाने के एएसआई हनुमानाराम को सस्पेंड किया है। दरअसल मामला यह है कि दंतौर पुलिस ने गुरुवार को दो वाहनों का पीछा करके दो सौ किलो डोडा पोस्त बरामद की। एक वाहन का चालक तो पुलिस की गिरफ्त में आ गया लेकिन दूसरा फरार होने में सफल हो गया। दूसरे के फरार होने के मामले में एसपी योगेश यादव ने एएसआई को सस्पेंड कर दिया। बताया जाता है कि एएसआई हनुमानाराम ने सीओ खाजूवाला अंजुम कयाल को जानकारी दिए बगैर ही उच्चाधिकारियों को कार्रवाई के बारे में रिपोर्ट कर दी। इससे नाराज होकर एसपी ने सस्पेंड कर दिया।

यह है पूरा मामला पुलिस को बज्जू जग्गासर की तरफ से डोडा पोस्त की गाड़ी आने की सूचना मिली थी। जिस पर एएसआई हनुमानाराम ने टीम के साथ दंतौर तिराहे पर नाकाबंदी की। डोडा पोस्त एक वरना और स्विफ्ट कार के माध्यम से लाया जा रहा था। वरना में दो सौ किलो डोडा पोस्त था, जबकि स्विफ्ट इस वरना को एस्कोर्ट कर रही थी। पुलिस ने स्विफ्ट को काबू किया तब तक वरना कार आगे निकल पड़ी। पुलिस ने जीप से वरना का पीछा किया मगर वरना की गति के आगे पुलिस की जीप बेबस दिखाई दी। 10-12 किलोमीटर आगे जाकर रोही में तस्करों की कार फंस गई, चालक फरार हो गया। ऐसे में पुलिस एक ही आरोपी को गिरफ्तार किया, जबकि दूसरा फरार हो गया। इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने एएसआई को सस्पेंड कर दिया। स्विफ्ट के चालक शिवपुर हिंदूमलकोट निवासी प्रदीप कुमार नायक को गिरफ्तार कर लिया गया। फरार आरोपी का नाम पीलीबंगा निवासी संदीप पुत्र चेतराम मेघवाल बताया जा रहा है।

शादी से 10 दिन पहले पकड़ी गई लेडी इंस्पेक्टर

तस्करों से साठगांठ के आरोप में निलंबित बरलूट थाने की महिला SHO सीमा जाखड़ ने पूरी डील वॉट्सऐप कॉल पर की थी। एसपी के निर्देश पर तस्करों को पकड़ने गई सीमा जाखड़ ने कार्रवाई करने की बजाय बाड़मेर में बैठे तस्करों के सरगना से संपर्क कर 10 लाख रुपए में डील कर ली। इतना ही नहीं थाने की जीप छोड़कर अपनी पर्सनल बलेनो कार से सरगना को भगाने में मदद की। जानकारी में यह भी सामने आया है कि सीमा जाखड़ की 28 नवंबर को शादी होनी है। उससे पहले ही भंडाफोड़ हो गया। पिछले कई दिनों से सिरोही एसपी धर्मेंद्र सिंह बरलूट एसएचओ सीमा जाखड़ पर नजर बनाए हुए थे।

इस मामले में कार्रवाई करते हुए एसपी ने बरलूट एसएचओ सीमा जाखड़ सहित तीन कांस्टेबलों रमेश कुमार, ओमप्रकाश और हनुमान को निलंबित कर दिया है। एसएचओ सीमा जाखड़ की तीन कांस्टेबलों के साथ मिलकर तस्कर को 10 लाख रुपए के बदले छोड़ने की भूमिका एसपी की जांच में साबित हो गई है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp