श्रीगंगानगर (श्रीकरणपुर)। ऊर्जा मंत्री तथा जिले के प्रभारी डॉ.बीडी कल्ल्ला के सोमवार को जिले के श्रीकरणपुर पहुंचने के दौरान भाजपा और एआईएसएफ तथा एसएफआई कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। मंत्री डॉ.कल्ला नगर पालिका सभागार में जिले के उच्च अधिकारियों की बैठक लेते रहे, वहीं इस दौरान भाजपा और एसएफआई तथा एआईएसएफ कार्यकर्ता हंगाम करते रहे। इन लोगों की पुलिस अधिकारियों से भी जमकर तकरार हुई लेकिन इन्हें अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया।
ज्ञापन देने पहुंचे थे कार्यकर्ता
भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता इलाके के लोगों को पर्याप्त नहरी पानी उपलब्ध करवाने, बिजली संकट सहित विभिन्न मांगों केसंबंध में डॉ.कल्ला को ज्ञापन देने के लिए पहुंचे थे। इसी दौरान एआईएसएफ और एसएफआई के कार्यकर्ता भी श्रीकरणपुर के ज्ञानज्योति कॉलेज और रायसिंहनगर के एसबीएस कॉलेज के सरकारीकरण की मांग के संबंध में ज्ञापन देने पहुंच गए। इन लोगों का कहना था कि उन्हें मंत्री डॉ.कल्ला को समस्या से अवगत करवाना है लेकिन मंत्री ने शाम पांच बजे तक मीटिंग के बाद ही ज्ञापन लेने की बात कही। इस पर पूर्व मंत्री सुरेंद्रपालसिंह टीटी के नेतृत्व में आए भाजपा कार्यकर्ता भडक़ गए। इन लोगों का कहना था कि मंत्री चाहे तो वे पांच सदस्यों के शिष्टमंडल के रूप में ज्ञापन सौंप सकते हैं लेकिन ज्ञापन देने आए लोगों से ज्ञापन नहीं लेना उचित नहीं है।
दोपहर तक जारी था विरोध प्रदर्शन
ज्ञापन देने आए भाजपा और एसएफआई तथा एआईएसएफ कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन दोपहर तक जारी था। इन लोगों का कहना था इलाके का आम आदमी बिजली की बढ़ी दरों से परेशान है वहीं किसान के खेतों में नहरी पानी नहीं आने से उसे परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस दौरान पूर्व मंत्री टीटी और भाजपा के अन्य पदाधिकारियों की पुलिस अधिकारियों से जमकर तनातनी हुई। इस पूरे घटनाक्रम के दौरान मंत्री जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में दिशा निर्देश देते रहे।