बीकानेर। सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के पावन आशीर्वाद से निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के जन्म दिवस 23 फऱवरी रविवार को बीकानेर सहित भारतवर्ष में 1200 सरकारी अस्पतालों में सफाई की जाएगी। जिसमें पूरे देश में करीब साढ़े तीन लाख श्रद्धालु शामिल होंगे। मीडिया सहायक अरूण सक्सेना ने बताया कि बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में सुबह आठ बजे से दोपहर एक बजे तक सफाई अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में पीबीएम के अनेक अनुभागों के अंदर स्थित वार्डों व परिसर को संत निरंकारी चैरिटेबल फाउण्डेशन की स्थानीय शाखा के 200 से अधिक स्वयंसेवक शामिल होकर सफाई करेंगे। सक्सेना ने बताया कि प्रदूषण अन्दर हो या बाहर, दोनों हो हानिकारक हैंÓ निरंकारी भक्त इसलिए मन और वातावरण को स्वच्छ रखने में प्रयासरत रहते हैं। मानवीय जीवन का अर्थ ही यही है कि दूसरों के लिए काम आया जाये। अध्यात्म की दृष्टि में मन व आत्मा की सफाई प्रभु निरंकार को स्मरण करने तथा इसके सत्संग से हो जाती है। इसके साथ आस-पास के वातावरण को सुंदर व स्वच्छ रखना आवश्यक होता है, इसी उदेश्य से यह सफाई अभियान चलाये जाते हैं।

गौरतलब रहे कि संत निरंकारी मिशन 2003 से हर वर्ष निरंकारी बाबा हरदेव सिंह जी महाराज के जन्म दिवस 23 फरवरी को देशभर में सफाई अभियान चलाता आ रहा हैं। वर्ष 2010 में संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के गठन के बाद, ये अभियान फाउंडेशन के तत्वावधान में आयोजित किये जा रहे हैं। फाउंडेशन स्वास्थ्य, शिक्षा, व्यवसायिक प्रशिक्षण के क्षेत्रों में समाज के प्रति महत्वपूर्ण योगदान देता आ रहा है। जब से Óस्वच्छ भारत अभियानÓ आरंभ हुआ, फाउंडेशन की ओर से भी प्रतिवर्ष अतिरिक्त सफाई अभियान आयोजित किये जाते हैं और राष्ट्रीय स्मारकों, समुद्र, नदियों तथा घाटों के तटों, रेलवे स्टेशनों, अस्पतालों, पार्कों तथा अन्य सार्वजनिक स्थानों पर विशेष ध्यान दिया जाता रहा है। मिशन को मानवता की सेवा के प्रति इस विशाल योगदान के लिए मान्यता प्रदान करते हुए भारत सरकार ने सितम्बर, 2015 में इसे Óस्वच्छ भारत अभियानÓ का ‘ब्रांड एम्बैसडरÓ घोषित किया। भारत सरकार के शहरी विकास मंत्रालय ने जून, 2017 में भी संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन को ‘शहरी स्वच्छता हुर्रे अवार्डÓ से सम्मानित किया।