>





खुलासा न्यूज बीकानेर ।
कस्बे के समीपवर्ती गांव अर्जुनसर के एक व्यापारी के साथ पंजाब के चार व्यक्तियों ने मिलकर दस लाख की धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है।  जिसका महाजन थाने में मामला दर्ज हुआ है। महाजन थानाधिकारी रमेश कुमार न्योल ने बताया कि अर्जुनसर निवासी विनोद कुमार जस्सू  कृषि मंडी में धान क्रय विक्रय का व्यापार करते हैं। व्यापारी के पास संगरूर जिले के फतेहगढ़ मल्टीपरपज सोसायटी का फर्जी तरीके से मैनेजर बनकर दीपक कुमार नामक व्यक्ति ने फोन करके एक गाड़ी सरसों की खरीद की बात की। व्यापारी विनोद कुमार द्वारा 23 मार्च को दीपक कुमार द्वारा बताए गए जीएसटी नंबर से बिल काट कर एक गाड़ी सरसों पंजाब भेज । गाड़ी में 174 क्विंटल सरसों जिसकी कीमत करीब दस लाख तीस हजार बताई जा रही है। माल पंजाब पहुंचने के बाद बताए गए पत्ते के अलावा दूसरी जगह सरसों खाली करवाई। भुगतान के लिए दो दिन का समय मांग लिया गया। इसके अलावा माल प्राप्ति रसीद पर भी फर्जी साइन किए गए। व्यापारी क्व फोन करने पर फर्जी व्यापारी दीपक कुमार ने फोन उठाना बंद कर दिया । जिससे विनोद कुमार को धोखाधड़ी का एहसास हुआ तो 29 मार्च को वह उनके गांव  पंजाब पहुंचा तो पता चला कि उन्होंने किसी और के नाम से बिल कटवाया है। इस सोसाइटी से इनका कोई लेना देना नहीं है। यह लोग पेशेवर धोखेबाज हैं। इनके द्वारा पूर्व में भी ऐसी कई घटनाएं की जा चुकी है। जब विनोद कुमार दीपक कुमार, कपिल कुमार गर्ग, योगेश गर्ग व परमिंदर सिंह से मिला तो इन्होंने भुगतान करने से मना कर दिया और कहा कि हमने जो किया वह कर दिया है। अब तुमसे जो होता है वह कर लेना। पेमेंट की उम्मीद हमसे मत करना। विनोद कुमार ने महाजन पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाते हुए बताया कि किसी दूसरी जीएसटी वाली फर्म का उपयोग कर फर्जी तरीके से सरसों मंगवा कर मेरे साथ दस लाख तीस हजार की धोखाधड़ी की है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की। मामले की जांच महाजन थाना के सहायक निरीक्षक राजेंद्र कुमार कर रहे हैं।