>


बीकानेर। श्री करणी चारण छात्रावास में क्रांतिकारी स्वतंत्रता सेनानी कुंवर प्रताप सिंह बारहठ की जयंती एवं शहादत दिवस मनाया गया। अध्यक्षता डॉक्टर कुलदीप सिंह बिट्टू ने की। मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए गिरधर दान रत्नू ने बताया की लॉर्ड हार्डिंग बम कांड के मुख्य सूत्रधार प्रताप सिंह थे। स्वतंत्रता आंदोलन में भाग लेने के कारण अंग्रेजों ने उन्हें जब गिरफ्तार किया था। तब अंग्रेज अधिकारी प्रताप को यातनाएं देकर उनके साथियों का नाम जानना चाहते थे,लेकिन प्रताप नहीं झुके और कहा में अपनी एक मां को हंसाने के लिए देश की अनेक माताओं को नहीं रुला सकता। डॉ कुलदीप बिठ्ठू ने जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि प्रताप के पूरे परिवार ने स्वतंत्रता आंदोलन में अपनी शहादत दी। इस अवसर पर शक्ति प्रश्न बिट्टू, डॉक्टर जगदीश दान,गिरधारी दान, वार्डन विक्रम देपावत,मदन दान दासूडी, अशोक,पवन दान,सुमेर साठी ,डूंगर दान सींथल, कुलदीप रतनू सहित अन्य गणमान्य लोगों ने प्रताप के छायाचित्र पर पुष्पाजंलि कर याद किया। संचालन जगदीश रतनू दासुडी ने किया।