>



खुलासा न्यूज़, बीकानेर। नेशनल हाइवे जैसलमेर रोड पर पुगल फांटे से आगे बजरी से भरे एक ट्रैक्टर ने अनियंत्रित होकर बारातियों और बैंड के साथ लाइटें लेकर चल रही महिलाओं को टक्कर मार दी। मृतकों की पहचान सोनु पुत्री विशनाराम नायक उम्र 14 साल व पूनम पत्नी फूसाराम नायक उम्र 25 और ऊषा पत्नी नवरतन सोनी निवासी नत्थूसर बास के रूप में हुई। वहीं घायल काली बाई पुत्री सुन्दर सोनी, नत्थुराम पुत्र मूलाराम सोनी निवासी सब्जी मंडी के पीछे व किशोर सिंह पुत्र बाबूलाल निवासी बंगलानगर को पीबीएम ट्रोमा सेंटर में भर्ती कराया गया है, जिनका अस्पताल में उपचार चल रहा है। पुलिस के अनुसार हादसे के बाद बारातियो और मोहल्ला वासियों में रोष व्याप्त हो गया। हाइवे पर ओवरलोड और बेलगाम दौड़ते बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली की वजह से जानें चली गई। ट्रैक्टर चालक मौके से फरार हो गया। बारात ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर घुस गई। लाइट पकड़े तीन महिला की मौत और चार बारातियों के घायल होने से शादी की खुशियां मातम में बदल गई। बारात जैसलमेर रोड पर बंगलानगर की तरफ जा रही थी। हाइवे से नीचे उतर रहे बारातियों को ट्रैक्टर ने कुचल दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर भीड़ को हटाया और हाइवे का जाम खुलवाया।

एसपी कब करेंगे कार्यवाही
इस हादसे को लेकर पुलिस प्रशासन सवालों के कटघरे में है। बड़ा सवाल यह कि यहां पर पुलिसकर्मी तैनात थे तो ओवरलोड ट्रेक्टर को क्यों नहीं रुकवाया ?
अब देखने वाला विषय यह है कि जिले के एसपी दोषी पुलिसकर्मियों पर क्या कार्यवाही करते है ?