चुनावों में असहयोग की 14 को होगी चर्चा
बीकानेर। तीसरी बार सासंद और दूसरी बार केन्द्रीय मंत्री बने अर्जुन राम मेघवाल नई सरकार में मंत्री बनने के बाद पहली बार बीकानेर पहुंचे। रेलवे स्टेशन पर मंत्री अर्जुन मेघवाल का गर्मजोशी के साथ स्वागत सत्कार किया गया। बाद में सर्किट हाउस में पत्रकारों से वार्ता के दौरान मेघवाल ने कहा कि मंत्रालय से जुड़े कार्यों में एक महीने में असर नजर आने लगेगा। अभी कार्य जारी है, एक महीने बाद फिर जब हम बैठेंगे तो बहुत सारे विकास दिखाई देंगे। उन्होंने कहा कि रोजगार सृजन का कार्य हमारी प्राथमिकता में है। सरकार ने सौ दिन की कार्ययोजना तैयार की है। जिसमें रोजगार व विकास को फोकस करते हुए फेम इंडिया पर काम किया जाएगा।
अपने मंत्रालय में भी बताई रोजगार की संभावना
उन्होंने कहा कि जिले का रोड मैप तैयार किया जा चुका है। उसके अनुरूप जिले के विकास और रोजगार के लिये एक कमेटी बनी है वो अपना काम करेगी। मेघवालने कहा कि मेरे पास जो मंत्रालय है,उसमें रोजगार की अपार संभावनाएं है। जिसको देखते हुए काम किया जाएगा। ंडस्ट्री और पब्लिक एंटरप्राइजेज में भी एम्प्लॉयमेंट जनरेशन की बेहद सम्भावनाएं हैं उस पर काम करेंगे। राजस्थान में रेप की बढ़ती घटनाओं को लेकर मेघवाल ने राज्य सरकार पर निशाना साधा कहा कि ऐसी घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण है।
14 को जयपुर में होगी चर्चा
संसदीय व भारी उद्योग राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि चुनाव के दौरान जो भी स्थितियां बनी, जिन लोगों ने चुनाव में असहयोग या विरोध किया, उन पर विचार के लिए भाजपा की 14 जून को जयपुर में बैठक होगी, उसी में समीक्षा और निर्णय होंगे। चुनाव के दौरान अर्जुन मेघवाल का विरोध करने, बीकानेर छोड़ कर दूसरे लोकसभा क्षेत्र में चले जाने और भीतरघात करने वालों की रिपोर्ट से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि हालांकि यह संगठन से जुड़ा मुद्दा है और शहर भाजपा अध्यक्ष सत्यप्रकाश आचार्य जानकारी दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि 14 की बैठक में संगठन में क्या काम हुआ, कैसे संगठन को आगे ले जाना है जैसे सारे विषयों पर बात होगी।
तय हो हार की जिम्मेदारी
राजस्थान सरकार से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को हार की जिम्मेदारी तय नहीं हो रही है, इस वजह से कानून व्यवस्था की स्थिति भी बिगड़ी। जो चिंता का विषय है। सरकार के मुख्या को इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए। किन्तु जब विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार की बात पर प्रश्न किया तो जबाब को टाल गए।
राजस्थान सरकार को गिराने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि भाजपा लोकतांत्रिक मूल्यों पर विश्वास है।
बीकानेर संभाग पुलिस के आला अधिकारी पर लगे आरोप में उन्होंने कहा कि इस मामले में सरकार को संज्ञान लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि चूरू के जिला प्रमुख ने भी इस मुद्दे पर बात की है। सरकार को संज्ञान लेना चाहिए।
इन्होंने किया स्वागत
मंत्री बनने के बाद पहली बार बीकानेर आए अर्जुन मेघवाल के स्वागत में भाजपाई उमड़ पड़े। अर्जुनराम जिंदाबाद के नारों के साथ ही वहां से सर्किट हाउस प्रेसवार्ता के लिए निकल गए। स्वागत में सत्यप्रकाश आचार्य, मोहन सुराना, दीपक पारीक, अशोक भाटी, विधायक सुमित गोदारा, महापौर नारायण चौपड़ा, अशोक प्रजापत, मनीष आचार्य, जेपी व्यास, नन्दकिशोर सोलंकी, सुरेश शर्मा, पवन चांडक सहित कई भाजपा कार्यकर्ता व पदाधिकारी शामिल थे। महिला मोर्चा की सुमन जैन, मीना आसोपा, शशि नैय्यर, विजयलक्ष्मी, तारा मेघवाल, सुधा आचार्य, सुषमा बिस्सा, प्रीति चांडक, पूर्वा चांडक, भारती अरोड़ा ने भी अर्जुन मेघवाल का स्वागत किया।