>



बीकानेर। संभाग के सूरतगढ के सदर थाना क्षेत्र के गुरुसर मोडिया व 32 एमओडी के बीच मार्ग पर पिस्तौल की नोक पर तीन नकाबपोश जनों ने फाइनेंस कम्पनी के दो जनों से 72,430 रुपए से भरा बैग छीनकर फरार हो गए। सूचना मिलने पर डीएसपी विद्याप्रकाश, सदर थानाधिकारी पवन कुमार पुलिस जाप्ता सहित मौके पर पहुंचे तथा फाइनेंस कर्मियों से घटनाक्रम की जानकारी ली। पुलिस ने क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही है। वही पुलिस ने फाइनेस कर्मी की रिपोर्ट पर अज्ञात तीनों जनों के खिलाफ लूट का मामला दर्ज किया है।<ड्ढह्म् />सदर थानाधिकारी पवन कुमार ने बताया कि सोमवार दोपहर 2.40 बजे सूरतगढ़ के भारत फाइनेंस कम्पनी के कर्मचारी रावला निवासी रिंकू (24) पुत्र दर्शनलाल व शेखसरपाल (करणपुर) निवासी राजप्रीत पुत्र गुरप्रीत सिंह मोटरसाइकिल पर गांव गुरुसर मोडिया से ग्राहकों से रुपए एकत्रित करके वापिस सूरतगढ की तरफ आ रहे थे। इस दौरान गांव गुरुसर मोडिया व 32 एमओडी के मध्य नहर पार करके सडक़ किनारे बने पानी की डिग्गी के पास पहुंचे तो उनकी बाइक के पीछे से एक मोटरसाइकिल पर तीन नकाबपोश जने आए। नकाबपोश व्यक्तियों ने अपने मोटरसाइकिल को फाइनेंस कर्मियों की बाइक के आगे लगाकर रोक लिया तथा इन्होंने पिस्तौल की नोक पर 72,430 रुपए से भरा बैग छीन लिया। इनके पास एक डण्डा भी था। तीनों नकाबपोश रुपयों से भरा बैग लेकर गांव गुरुसर मोडिया की तरफ मोटरसाइकिल सहित भाग गए। फाइनेस कर्मियों ने सूरतगढ़ स्थित फाइनेस कार्यालय में सूचना दी। इसके बाद सदर पुलिस व डीएसपी विद्याप्रकाश मौके पर पहुंचे तथा फाइनेंस कम्पनी के कर्मियों से घटनाक्रम के बारे में जानकारी ली। वही पुलिस ने बताया कि लूट मामले में शिकार हुए फाइनेंस कर्मी राजप्रीत 15 जनवरी व रिंकू दो दिन पूर्व ही फाइनेस कम्पनी में लगे थे। पुलिस ने राजप्रीत की रिपोर्ट पर अज्ञात तीन जनों के खिलाफ लूटपाट का मामला दर्ज किया है।करवाई नाकाबंदी, खंगाले सीसीटीवी कैमरे डीएसपी विद्याप्रकाश ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद क्षेत्र की नाकाबंदी करवाई तथा क्षेत्र के मुख्य मार्गों पर लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रहे हैं। लुटेरे पंजाबी भाषा में बात कर रहे थे। गांव गुरुसर मोडिया व आसपास क्षेत्र में भी लूटेरों की तलाश की गई, लेकिन लुटेरों का कोई सुराग हाथ नहीं लगा