आपके काम की बात :कल से बैंकिंग और टैक्स से जुड़े नियमों में होंगे बदलाव  - Khulasa Online

आपके काम की बात :कल से बैंकिंग और टैक्स से जुड़े नियमों में होंगे बदलाव 

एक जुलाई से देशभर में कई बदलाव होने वाले हैं। इनका सीधा असर आपकी पॉकेट और जिंदगी पर पड़ेगा। इसलिए जरूरी है कि नियमों की जानकारी पहले ही अपने पास रखें। 1 जुलाई से IDBI और SBI बैंक से पैसा निकालना महंगा होने वाला है। हम आपको ऐसे 9 बदलावों के बारे में बता रहे हैं जिनका असर आप पर पड़ेगा।

SBI ने नियम बदले 1 जुलाई से ATM से पैसा निकालने और चेकबुक का इस्तेमाल करने पर ग्राहकों को एक्स्ट्रा चार्ज देना होगा। बेसिक सेविंग बैंक डिपॉजिट (BSBD) अकाउंट पर यह सभी नए नियम लागू होंगे। SBI के ATM या बैंक ब्रांच से 4 बार पैसा निकालना फ्री होगा। इसके बाद यानी फ्री लिमिट के बाद कैश निकालने पर 15 रुपए और GST देना होगा। इसके अलावा अब चेक बुक लेने के लिए भी आपको ज्यादा चार्ज देना होगा।

IDBI बैंक से पैसे निकालना होगा महंगा IDBI बैंक 1 जुलाई से चेक लीफ चार्ज, सेविंग अकाउंट चार्ज और लॉकर चार्ज में बदलाव करने जा रहा है। बैंक ने नकद जमा (होम और नॉन-होम) के लिए मुफ्त सुविधा को सेमी अर्बन और रूरल ब्रांचों में मौजूदा 7 और 10 बार से घटाकर 5-5 बार कर दिया है।

इसके अलावा ग्राहकों को अब हर साल सिर्फ 20 पन्ने की चेक बुक ही फ्री मिलेगी। उसके बाद प्रत्येक चेक के लिए ग्राहकों को 5 रुपए का भुगतान करना होगा। इसके अलावा सीनियर सिटीजंस को लॉकर पर मिलने वाला डिस्काउंट तभी मिलेगा, जब उनका मंथली एवरेज बैलेंस (MAB) 10 हजार होगा।

सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों को नया IFSC कोड इस्तेमाल करना होगा सिंडिकेट बैंक, कैनरा बैंक में मर्ज हो चुका है। इसलिए अब 1 जुलाई से बैंक के IFSC कोड बदले जा रहे हैं। सिंडिकेट बैंक के ग्राहकों को अब अपनी बैंक शाखा के लिए नए IFSC कोड लेना होगा।

आधार की तर्ज पर ज्वेलरी के हर नग की यूनीक पहचान होगी अनिवार्य गहने चोरी हो जाएं या कहीं गुम हो जाएं, अगर यह गलाए नहीं गए हैं तो इनके वास्तविक मालिक की पहचान आसानी से हो सकेगी। दरअसल, जिस तरह देश के सभी नागरिकों की पहचान आधार कार्ड में यूआईडी के जरिए की गई है, ठीक उसी तरह सरकार 1 जुलाई से ज्वेलरी के हर नग की विशिष्ट पहचान (यूआईडी) अनिवार्य बनाने जा रही है।

LPG सिलेंडर की कीमतों में हो सकता है बदलाव हर महीने की पहली तारीख को केंद्र सरकार LPG सिलेंडर की कीमत की घोषणा करती है। पिछले महीने सरकार ने 19 किलो वाले कॉमर्शियल सिलेंडर के दाम में 122 रुपए कटौती की गई थी।

छोटी बचत स्कीम की ब्याज दरों में हो सकती है कमी छोटी बचत यानी स्मॉल सेविंग स्कीम में निवेश करने वालों को झटका लग सकता है। सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही के लिए भी मार्च में इनकी ब्याज दरों में कटौती की थी, लेकिन बाद में इस कटौती को वापस ले लिया गया था। PPF, सुकन्या समृद्धि योजना, किसान विकास पत्र, सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट, मंथली इनकम स्कीम, टाइम डिपॉजिट और रिकरिंग डिपॉजिट स्कीम स्मॉल सेविंग स्कीम में आती हैं।

मारुति और हीरो गाड़ियों के दाम बढ़ाएंगी देश की सबसे बड़ी कार निर्माता मारुति सुजुकी इंडिया की कारें और हीरो की बाइक एक जुलाई से महंगी हो जाएंगी। हीरो अपनी स्कूटर और मोटरसाइकिल की एक्स-शो रूम कीमतें तीन हजार रुपए तक बढ़ा रही है। वहीं मारुति भी अपनी कई सेगमेंट की कारों के दाम बढ़ाएगा।

50 लाख से ऊपर की खरीद पर टीडीएस कटेगा आयकर अधिनियम में हाल ही में सेक्शन-194 क्यू जोड़ा गया है। यह सेक्शन किसी सामान को खरीदने के लिए पहले से ही तय कीमत के भुगतान पर लगने वाले टीडीएस से जुड़ा है।नए सेक्शन के तहत 50 लाख रुपए से ऊपर की कारोबारी खरीद पर 0.10 फीसदी टीडीएस काटा जाएगा। अगर पिछले साल किसी कारोबारी का टर्नओनर 10 करोड़ या उससे अधिक रहा है तो इस साल वह 50 लाख से ऊपर तक का माल खरीद सकेगा। इससे ऊपर की बिक्री होगी, टीडीएस कटेगा।

एक जुलाई से 206 एबी सेक्शन भी प्रभाव में आ जाएगा। इसके तहत, अगर विक्रेता ने दो साल तक आयकर रिटर्न फाइल नहीं किया तो यह टीडीएस 5% हो जाएगा। यानी पहले जो टीडीएस 0.10 था, उसके पांच फीसदी होने का मतलब है कि टीडीएस की दर 50 गुना बढ़ जाएगी।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp