डूंगर कॉलेज में वन्यजीव सप्ताह सम्पन्न

बीकानेर । राजकीय डूंगर महविद्यालय के प्राणीशास्त्र विभाग द्वारा दो से आठ अक्टुबर तक वन्यजीव सप्ताह मनाया गया। विभाग प्रभारी डॉ. राजेन्द्र पुरोहित ने बताया कि पूरे सप्ताह के दौरान विद्यार्थियों ने वन्यजीव का प्राकृतिक आवास में अध्ययन, क्विज कार्यक्रम, फोटोग्राफी प्रतियोगिता तथा निबन्ध प्रतियोगिता आदि का आयोजन किया गया। डॉ. पुरोहित ने अन्तर्विषयक आयोजनों की महती आवश्यकता पर बल दिया। कार्यक्रम संयोजक डॉ. प्रताप सिंह ने बताया कि वन्यजीव सप्ताह के दौरान विद्यार्थी कुछ दुर्लभ पक्षी जैसे ग्रीन बी ईटर, बगुला, स्टिल्ट, मूरहेन, इजिप्शियन गिद्ध, टॉनी ईगल, इण्डियन रोलर, ब्लैक काईट आदि वन्यजीवों की 30 से भी अधिक प्रजातियों को देखकर रोमांचित हुए । डॉ. प्रताप ने बताया कि इसके अतिरिक्त गोयरा, नेवला, साण्डा तथा विभिन्न सांपो का भी प्राकृतिक आवास में अध्ययन किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्राचार्य डॉ. जी.पी.सिंह ने वन्यजीवों की घटती संख्या पर गहरी चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि बिना वन्यजीवों के संरक्षण मानव जीवन संम्भव नहीं है। डॉ. सिंह ने कहा कि हमें अपनी आवश्यकताओं को सीमित करना होगा तथी प्राकृतिक आवास सुरक्षित रह सकेगें। उन्होनें अमेरिका सहित अन्य यूरोपियन देशों में बहुमंजिला इमारतों को वन्यजीवों से संरक्षण हेतु उपयोगी बताया। आयोजन सचिव डॉ. बलराम सांई ने बताया कि महाविद्यालय के स्नातक तथा स्नातकोत्तर विद्यार्थियों ने सक्रिय रूप से भाग लिया। उन्होनें बताया कि समापन समारोह में विजेता विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया गया । इस अवसर पर अपने उदबोधन में आयोजन सचिव श्री महेन्द्र सोलंकी ने बताया कि क्विज एवं निबंध प्रतियोगिता में सुश्री विजय लक्ष्मी तथा फोटोग्राफी में ज्योति कंवर प्रथम रही तथा क्विज प्रतियोगिता में सुश्री तुलसी शर्मा, निबंध प्रतियोगिता में शशिकांत प्रेमी तथा फोटोग्राफी में ज्योति तिवारी द्वितीय स्थान पर रहे। कार्यक्रम में प्राणीशास्त्र, वनस्पति शास्त्र, हिन्दी, राजस्थानी, वाणिज्य संकाय, संस्कृत सहित अनेक विषयों के संकाय सदस्य एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे। वरिष्ठ संकाय सदस्य डॉ. दीप्ति श्रीवास्तव ने सभी आगन्तुकों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp