शुद्ध में युद्ध बंद कार्यक्रम बंद क्यों?

बीकानेर। एक साल से स्वास्थ्य विभाग ने शुद्व के लिए युद्व कार्यक्रम बंद कर रखा है जिसकी वजह से पूरे शहर में जगह- जगह मिठाई की दुकान लगी हुई है लेकिन स्वास्थ्य विभाग ने अब तक शुद्व के लिए युद्ध कार्यक्रम बंद कर दिया है और इसका फायदा मिठाई दुकान वाले की चांदी हो रखी है वो जमकर मिलावट का व्यवसया करता है। शहर में सैकड़ों कचौरी की दुकानें, मिठाई की दुकानों पर मावा व मसाले में जमकर मिलावट की जा रही है। गौरतलब रहे कि पूर्व सीएमएचओ ने शहर में मिठाई व कचौरी की दुकानें में शुद्व के युद्ध के तहत कार्यवाही की थी उसके बाद आज तक एक भी कार्यवाही नहीं हुई है। जबकि एक साल में कई त्यौहार चले गये और अब एक महिने के बाद बड़ा त्यौहार दिपावली आ रही है इस मौके पर मिठाई के दुकानदारों व मावा वालों ने शहर के कोल्ड स्टोरों में मावें का भारी मात्रा में स्टॉक करना शुुरु कर दिया है वहीं मावा आने वाले त्यौहारों के मौके पर काम लिया जायेगा।ऐसे में यह दुकानदारों ने शहरवासियों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करेंगे। लेकिन शहर का स्वास्थ्य विभाग कुंभकरण की नींद सो रहा है अभी तक स्वास्थ्य विभाग ने शुद्व के लिए युद्व कार्यक्रम शुुरु नहीं किया है इससे यह जाहिर हो रहा है स्वास्थ्य विभाग शहरवासियों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ करने में लगा हुआ है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp