दुपहिया वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर क्यों दिखाई जा रही फिल्में - Khulasa Online दुपहिया वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर क्यों दिखाई जा रही फिल्में - Khulasa Online

दुपहिया वाहन चालकों को टोल प्लाजा पर क्यों दिखाई जा रही फिल्में

बीकानेर। जिले के राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने वाले दोपहिया वाहन चालकों की सघन हेलमेट जांच, सुरक्षा फिल्म दिखाने तथा नेत्र जांच शिविर आयोजित करने के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। जिले में दुर्घटनाओं व उनमें हताहत हुए लोगों की संख्या में जनवरी से जून माह के दौरान गत वर्ष इसी अवधि की तुलना में कमी आई है। सड़क सुरक्षा समिति की बुधवार को आयोजित बैठक में यह जानकारी दी गई। जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने बताया कि इस वर्ष जनवरी से जून माह तक हुई दुघर्टनाओं में जि़ले में 176 लोगों की मृत्यु हुई जबकि 261 लोग घायल हुए। गत वर्ष इसी अवधि के दौरान हुई दुघर्टनाओं में 178 लोगों मृत्यु हुई तथा 327 व्यक्ति घायल हुए थे।

जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने बताया कि टोल प्लाजा पर नियमित रूप से हेलमेट जांच अभियान चलाया गया है जहां नियमों की पालना नहीं करने वालों को रोक कर हेलमेट ना पहनने से हुई दुर्घटना से जुड़े वीडियो दिखाकर भविष्य में नियमों को पालन करने के प्रति जागरूक किया जाता है। साथ ही वाहन नेत्र जांच शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। खारा टोल पर आयोजित नेत्र जांच शिविर में गत माह 110 लोगों को मौके पर ही चश्मे भी वितरित किए गए। उन्होंने कहा कि मौके पर ही चश्मे देने से वाहन चालकों में दृष्टि दोष को लेकर की जा रही लापरवाही में भी कमी आई है ।

बैठक में जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने जिले में चिन्हित किए गए नये दुर्घटना संभावित प्वाइंट्स का अध्ययन करते हुए दुर्घटनाओं के कारणों पर विस्तार से रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए,जिससे रणनीतिक रूप में कार्यवाही की जा सके।

जिला कलेक्टर ने कहा कि नोखा व श्रीडूंगरगढ़ थाना क्षेत्र में एसएचओ से विशेष टिप्पणी लेकर रिपोर्ट प्रस्तुत की जाए। साथ ही इन क्षेत्रों में काटे गए चालान व दुर्घटनाओं को कम करने हेतु किए गए प्रयासों के संबंध में भी जानकारी लें। ब्लाकवार दुघर्टनाओं की समीक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि गंगाशहर, बीछवाल, सदर थाना और पूगल थाना क्षेत्र प्रभारी से हेलमेट,सीट बेल्ट जांच के संबंध में चलाए गए सघन जांच अभियान की रिपोर्ट ली जाए। सेफ्टी आडिट रिपोर्ट पर संयुक्त निरीक्षण नहीं करने पर जिला कलेक्टर ने संबंधित एजेंसियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने को कहा।
जिला कलेक्टर ने कहा कि एन एच ए आई द्वारा राजमार्गों के किनारे झाडिय़ों को हटाने की कार्यवाही की अगले एक महीने में पूरी कर ली जाए।

बैठक में राजमार्गों पर नेत्र जांच शिविर लगाकर चश्मा वितरण करने, कैट आइज, स्पीड गवर्नर, सहित विभिन्न कार्यों की समीक्षा की गई। जिला कलेक्टर ने कहा कि चश्मे उपलब्ध करवाने में सीएमएचओ अन्य एजेंसियों का सहयोग लें।जयपुर रोड स्थित ढाबों आदि पर अगले एक महीने में रैलिंग व रिफ्लेक्टर लगवाने की कार्रवाई पूरी की जाए। उन्होंने चिन्हित ब्लैक स्पॉट पर चालान बढ़ाने व अवैध कट बंद करने का विरोध करने वालों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए।
भगवती प्रसाद कलाल ने कहा कि राजमार्गों के किनारे निर्माण सामग्री बेचने , अतिक्रमण करने वालों को नोटिस जारी करें और इसके बाद भी सामग्री नहीं हटाने वालों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई जाए।

सड़कों पर बने गड्ढों को भरवाने के निर्देश

जिला कलेक्टर ने कहा कि नगर निगम, यूआईटी और पीडब्ल्यूडी समन्वय करते हुए शहर के समस्त क्षेत्रों में सड़कों पर बने गड्ढों को भरवाने की कार्यवाही करें। निगम शहर के समस्त खुले चैम्बर को ढकवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि यदि खुले चैम्बर आदि के कारण कोई दुर्घटना हुई तो संबंधित क्षेत्र के जमादार और निगम के अधिकारी की जिम्मेदारी तय की जाएगी।
बैठक में नगर विकास न्यास सचिव यशपाल आहूजा, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता मुकेश गुप्ता, सीएमएचओ डॉ मोहम्मद अबरार पंवार, जिला परिवहन अधिकारी भारती नैथानी , यातायात प्रभारी रमेश सर्वटे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26