सीएम गहलोत-वसु पर ये क्या बोल गये बेनीवाल,पढ़े पूरी खबर

खुलासा न्यूज,बीकानेर। नागौर सांसद व आरएलपी प्रमुख हनुमान बेनीवाल ने कहा कि एक बार फिर गहलोत और वसुंधरा राजे पर गठजोड़ ने अपने आप को सता में काबिज रहने के खेल को जग जाहिर कर दिया है। उन्होंने कहा कि 20 साल से राजस्थान में मिलाजुली का खेल चल रहा है। वसुंधरा-गहलोत के गठजोड़ की वजह से राजस्थान बर्बादी की कगार पर चला गया। वे आज बीकानेर प्रवास के दौरान सर्किट हाऊस में पत्रकारों से मुखातिब होते हुए बोले की। बेनीवाल ने कहा कि राजस्थान में मिला जुली का खेल आपने भी देखा होगा। वसुंधरा जी की सरकार में जो अधिकारी थे, वो गहलोत की सरकार में हैं। वहीं, गहलोत की सरकार के अधिकारी थे, वो वसुंधरा के निजी अधिकारी थे। इस मिला जुली के खेल को कौन खत्म करेगा। जिसका जिम्मा राजस्थान में आरएलपी पार्टी ने उठाया है। केंद्र सरकार द्वारा तीनों कृषि कानून को वापस लेने पर केंद्र सरकार ने तीनों काले कृषि कानून लाद दिए अपने सहयोगीयो से बिना चर्चा किए काले कानून किसानों पर थोप दिए। कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले को देर से लिया हुआ फैसला बताया।उन्होंने आंदोलन में शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि ये किसानों के संघर्ष की जीत है।मैं खुद किसान का बेटा हूं। प्रधानमंत्री ने कहा कि एमएसपी खत्म नहीं होगी, लेकिन हम चाहते हैं कि किसान को लागत से डेढ़ गुना ज्यादा दाम मिले। नागौर सांसद ने राजस्थान कभी शांत प्रदेश हुआ करता था। लोग उत्तरप्रदेश और बिहार से जयपुर में जमीन बेचकर बच्चों को पढ़ाने के लिए आते थे। वही राजस्थान अब गैंगवार का अड्डा बन गया। इसके लिए 20 साल का गठबंधन दोषी है।हनुमान बेनीवाल ने अशोक गहलोत पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पुत्र मोह में गहलोत धृतराष्ट्र बन गए हैं। उनकी ख्वाहिश राजस्थान में कांग्रेस के आखिरी शासक बनने की है। गहलोत अपना कार्यकाल येन केन पूरा करना चाहते हैं ताकि कभी इसके बाद कभी नहीं आए प्रदेश में कांग्रेस सरकार।उन्होंने राज्य मैं बढ़ रही अपराध की घटनाओं पर सीएम गहलोत को घेरते हुए कहा आज प्रदेश अपराधियों का गढ़ बन गया है। राजस्थान में 5 लगातार रेप की घटना हुई। राजस्थान महिला उत्पीडऩ में उत्तर प्रदेश से भी आगे है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp