शंकर वाटिका में गूंज रहे है वैदिक मंत्र,युवा सीख रहे है कर्मकांड विद्या - Khulasa Online

शंकर वाटिका में गूंज रहे है वैदिक मंत्र,युवा सीख रहे है कर्मकांड विद्या

खुलासा न्यूज,बीकानेर। श्रीराम पुरातन वैदिक धर्म-संस्कृति-शिक्षा प्रसार-प्रचार सीमिति के तत्वावधान में नि: शुल्क कर्मकाण्ड शिविर विगत 21 दिनों से नत्थूसर गेट के बाहर स्थानीय निवास शंकर वाटिका निवास में संचालित किया जा रहा हैं। पं. दीपक शास्त्री ने बताया कि इस शिविर में भाग लेने वाले विद्यार्थियों को भारतीय वैदिक संस्कृति संरक्षण हेतु तैयार किया जा रहा हैं। समिति के सदस्य पं. किसन कुमार छंगाणी ने बताया प्रशिक्षण के दौरान संध्यावंदन,नित्यकर्म, दुर्गासप्तशती,रुद्राष्टाध्यायी,दैनिक पूजन के वैदिक व पौराणिक मन्त्र आदि अनेकानेक कर्मकाण्ड अंतर्गत विषयों का पठन- पाठन करवाया जाता हैं। शिविर के प्रशिक्षक- ज्योतिर्विद पं. बलदेवदत्त छंगाणी (श्रीराम) ने बताया वैदिक सनातन परंपरा में कर्मकाण्ड का महत्वपूर्ण स्थान हैं। कर्मकाण्ड के बिना वैदिक सनातन वर्णाश्रम धर्म नहीं चलता हैं सनातन धर्म की शाश्वत धारा को प्रवाहित कर पूर्वीय दर्शन कि सजीवता को हर मानव तक पहुंचाने के लिए ब्राह्मणों को संगठित होना होगा। ब्राह्मणोचित संस्कृति के अंतर्गत देवभाषा संस्कृत के वैदिक मंत्रों का लयबद्ध स्पष्ट उच्चारण होना चाहिये।लोक:समस्ता:सुखिनोभवन्तु" सनातन संस्कृति का ह्रास होने से बचाना मुख्य उद्देश्य हैं। "अध्यपनं ब्रह्म यज्ञ:" "ज्योतिष्मत: पथो रक्ष धिया कृतान्" ।। शिविर के सदस्य पं.शिवशंकरशास्त्री व गणेशशास्त्री ने बताया शिविर रात्रि में 8 से 9 बजे तक संचालित होता हैं आगामी दिनों में ज्योतिष धर्मशास्त्रादि विषयों में प्रशिक्षण दिया जायेगा।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp