गंगाशहर मंडल पदाधिकारी और भाजपा ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष के साथ तू-तू मैं-मैं,जाने क्या है माजरा - Khulasa Online

गंगाशहर मंडल पदाधिकारी और भाजपा ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष के साथ तू-तू मैं-मैं,जाने क्या है माजरा

खुलासा न्यूज,बीकानेर। प्रदेश में दोनों ही राजनीतिक दलों में इन दिनों अन्र्तकलह के हालात बने हुए है। जिसके असर राजनीतिक नियुक्तियां व संगठनों में पदाधिकारियों की नियुक्तियां में देखा जा रहा है। इस कलह से जिले भी अछूते नहीं है। बीकानेर में भी कांग्रेस-भाजपा में संगठनात्मक गणित को लेकर चल रही उठापठक चौड़े हो रही है। पिछले दिनों भाजपा में हुई नियुक्तियों को लेकर आन्तरिक दर्द सोशल मीडिया पर छलकने की घटना अभी शांत भी नहीं हुई थी कि मोदी के मन की बात कार्यक्रम की एक फोटो ने एक बार फिर भाजपा में बवाल पैदा कर दिया है। हालात यहां तक हो गये कि मोर्चा अध्यक्ष व मंडल के पदाधिकारियों में तू-तू,मैं-मैं तक हो गई। मामला रविवार को मोदी की मन की बात कार्यक्रम के आयोजन का है। जिसमें भाजपा गंगा भाजपा ओबीसी मोर्चा के अध्यक्ष राजाराम सींगड़ ने गंगाशहर मंडल के कार्यक्रम को ओबीसी मोर्चा का कार्यक्रम बताकर उसकी फोटो सोशल मीडिया और संगठन के बने ग्रुपों में शेयर कर दी। इस मामले ने इतना तूल पकड़ लिया कि बात प्रदेश स्तर तक पहुंच गई। ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष की इस हरकत की शिकायत गंगाशहर के मंडल के पदाधिकारियों ने भाजपा शहर जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह और प्रदेश के पदाधिकारियों के समक्ष विरोध दर्ज कराया है। साथ ही ओबीसी शहर जिलाध्यक्ष राजाराम सीगड़ को आड़े हाथों लिया और दुबारा कभी कार्यक्रम में नहीं बुलाने तक कह डाला। यह है मामला जून माह के अंतिम रविवार को मोदी के मन की बात सुनाने का कार्यक्रम बूथ स्तर पर किया गया। यह कार्यक्रम मोर्चा को भी देखना था लेकिन ओबीसी मोर्चा में कोई व्यवस्था नहीं हुई इस कारण ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष ने गंगाशहर मंडल द्वारा सभी नवनियुक्त मोर्चा अध्यक्ष सम्मान कार्यक्रम एवं मन की बात संयुक्त रूप से सुनने का कार्यक्रम रखा गया। ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष भी उसमें आमंत्रित थे। इसका लाभ उठाते हुए राजाराम सीगड़ ने गंगाशाहर मंडल के स्वागत बैनर पर गंगाशहर मंडल आपका हार्दिक स्वागत करता है,में छेड़छाड़ कर गंगाशहर मंडल पर कंप्यूटर से ओबीसी मोर्चा का कार्यक्रम लिखकर प्रदेश को रिपोर्ट भेज दी और फोटो भी वायरल कर दिए। फोटो वायरल का गंगाशहर मंडल कार्यकर्ताओं को पता चला। जिसके बाद आनन-फानन में ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष राजाराम से सीगड़ ने वह फोटोज सोशल मीडिया से हटा लिए। इस पर गंगाशहर मंडल के कार्यकर्ता बिगड़ गये और राजाराम को खरी-खोटी सुनाई। सूत्र तो यह भी बताते है कि जिलाध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह ने भी इस कृत्य के लिए राजाराम को लताड़ लगाई है अब इसकी शिकायत भी ऊपर तक की गई है। भारत माता का चित्र रखा जमीन पर किया अपमान यही नहीं ओबीसी मोर्चा के जिलाध्यक्ष की वो फोटो भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। जिसमें भारत माता का फोटो जमीन पर रखा दिखाई दे रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल एक फोटो में ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष ने अपनी पत्नी और 3 बच्चों के साथ शाम को यूट्यूब पर मोदी के मन की बात देखने का फोटो वायरल किया तो उसमें भारत माता की तस्वीर पीछे जमीन पर पड़ी नजर आ रही है जिस पर भाजपा के कार्यकर्त और आम लोग बड़ा जबरदस्त वायरल कर रहे हैं जिसको लेकर ओबीसी मोर्चा जिला अध्यक्ष राजाराम की चारों तरफ जबरदस्त खिंचाई हो रही है। गलत रिपोर्टिंग से कैसा चलेगा संगठन ओबीसी मोर्चा जिलाध्यक्ष राजाराम की इस हरकत के बाद पार्टी में अन्दुरूनी कलह उजागर हो गई है। पार्टी का एक बड़ा धड़ा ओबीसी अध्यक्ष की गलत रिपोर्टिंग को लेकर सवाल खड़े कर दिये है। उन्होनें प्रदेश नेतृत्व को विरोध दर्ज करवाते हुए कहा कि मन की बात देखने के कार्यक्रम की जो रिर्पोटिंग सार्वजनिक हुई है। उसके अनुसार उसने ओबीसी द्वारा 150 लोगों का कार्यक्रम देखे जाने की रिपोर्ट दी गई है,जबकि जो फोटो वायरल हुआ है उसमें सिर्फ और उनकी पत्नी और साथ में 3 बच्चे बैठे नजर आ रहे हैं उसने झूठ के आधार पर काम करेंगे तो चुनाव के समय लोग कहां से लाएंगे। क्या यही होता है संगठन का कार्य।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp