हादसे रोकने के लिए अब बीकानेर प्रशासन की एक ओर पहले इस सड़क को करेगे चौड़ा - Khulasa Online

हादसे रोकने के लिए अब बीकानेर प्रशासन की एक ओर पहले इस सड़क को करेगे चौड़ा

  बीकानेर। हादसे रोकने और ट्रैफिक सुधारने के लिए रानी बाजार पुल से लगती मेडिकल कॉलेज रोड को चौड़ा किया जाएगा। पुल के सामने पीबीएम अस्पताल की दीवार का भी पुनर्निर्माण किया जाएगा। रानी बाजार पुल का निर्माण एच सेफ में है जिसे तकनीकी रूप से सही नहीं माना जा रहा। इसका सबसे बड़ा कारण है पुल से लगती मेडिकल कॉलेज रोड पर जगह कम होना। अक्सर पुल से मेडिकल कॉलेज रोड की तरफ उतरते समय वाहन सामने बनी पीबीएम अस्पताल की दीवार से टकराकर दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं। इसके अलावा पर्याप्त जगह नहीं होने के कारण अंबेडकर सर्किल से मेडिकल कॉलेज और रानी बाजार पुल पर जाने वाले लोग जाम में फंस जाते हैं। पुल के पास हादसे होने से लोग चोटिल भी होते हैं। इसे देखते हुए प्रशासन ने मेडिकल कॉलेज रोड को चौड़ा करने की तैयारी कर ली है। इसके लिए पीबीएम अस्पताल की दीवार का इस तरह से पुनर्निर्माण किया जाएगा कि रानी बाजार पुल से उतरने वाले वाहन और अंबेडकर सर्किल से पुल पर चढ़ने व मेडिकल कॉलेज की तरफ जाने वाले वाहनों को अधिक जगह मिल सके। इस संबंध में प्रशासनिक अधिकारी विचार-विमर्श कर चुके हैं। जल्दी ही पुल और उसके आसपास की जगह का तकनीकी परीक्षण कराकर काम शुरू किया जाएगा। अस्पताल की दीवार के पास लगे होर्डिंग्स भी हटाए जाएंगे। इसकी जिम्मेवारी नगर निगम को सौंपी गई है। पूर्व में भी हो चुकी है प्लानिंग रानी बाजार पुल के दोनों ओर जगह कम होने के कारण ट्रैफिक समस्या है। सूरज टॉकीज की तरफ तो प्राइवेट जमीन होने के कारण प्रशासन के पास ऑप्शन नहीं है, लेकिन मेडिकल कॉलेज रोड की तरफ सामने पीबीएम अस्पताल की दीवार है। प्रशासनिक अधिकारी अस्पताल की दीवार के अंदर परिसर में खाली पड़ी जमीन का इस्तेमाल कर आमजन के लिए ट्रैफिक सुधारने की योजना बना रहे हैं। नाला बंद कर चौड़ी की जा सकती है रोड आंबेडकर सर्किल से आगे मेडिकल कॉलेज रोड पीबीएम अस्पताल परिसर से गंदे पानी का नाला गुजर रहा है। प्रशासन इस नाले को बंद कराकर रोड को चौड़ा करा सकता है। इससे जाम की स्थिति में सुधार होगा और बड़े वाहनों को गुजरने में भी आसानी होगी। पूर्व में आयोजित हुई प्रशासनिक बैठकों में ट्रैफिक पुलिस की ओर से इस संबंध में प्रस्ताव भी रखे जा चुके हैं।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp