युवक अपनी सगाई से बचने के लिए रच डाली किडनैपिंग की कहानी, घूमता रहा जंगलों में - Khulasa Online

युवक अपनी सगाई से बचने के लिए रच डाली किडनैपिंग की कहानी, घूमता रहा जंगलों में

बूंदी। बूंदी जिले के तालेड़ा थाना क्षेत्र से कथिक रूप के अपहृत हुए सुरेश कुमार मीणा के अपहरण की कहानी झूठी साबित हुई. तालेड़ा पुलिस ने सुरेश को सोमवार सुबह दस्तयाब कर लिया. पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि अपने अपहरण की कहानी उसने खुद ही बनाई थी. दरअसल, जिस लड़की से सगाई होनी थी, वह उससे शादी नहीं करना चाहता था. इसी के चलते उसने अपहरण की कहानी बनाई और तीन दिन तक जंगलों में घूमता रहा. पुलिस ने बताया कि 29 अक्टूबर को सुबह मोहीपुरा गांव में रहने वाले सुरेश कुमार मीणा (22) की सगाई का कार्यक्रम था. अचानक वह रहस्यमयी तरीके से लापता हो गया. उसने कॉल कर परिजनों को बताया कि उसकी आंखों पर पट्टी बंधी है. कुछ बदमाश उसे जीप में डाल कर ले जा रहे हैं और मारपीट कर रहे है. उसके बाद मोबाइल बंद हो गया. घर के भागकर जंगलों में घूमकर समय बिताया सगाई से पूर्व सुरेश के अपहरण का पता चलने पर परिजनों ने तुरंत पुलिस को सूचना दी. पुलिस अपहृत की तलाश में जुट गई. पुलिस ने सोमवार सुबह अपहृत सुरेश को घर से 5 किलोमीटर दूरी पर स्थित कोटखेड़ा गांव के मंदिर से दस्तयाब किया. पूछताछ में उसने सगाई होने वाली युवती से शादी नहीं करने के कारण घर से भागना और अपहरण की झूठी सूचना परिजनों को देना कबूल किया. उसने घर से गायब रहने के दौरान गांव के जंगलों में घूमकर समय बिताया.
error: Content is protected !!
Join Whatsapp