इन दो अस्पतालों को तीन साल तक मिलेंगा तीन-तीन लाख रुपए इंसेंटिव - Khulasa Online इन दो अस्पतालों को तीन साल तक मिलेंगा तीन-तीन लाख रुपए इंसेंटिव - Khulasa Online

इन दो अस्पतालों को तीन साल तक मिलेंगा तीन-तीन लाख रुपए इंसेंटिव


अब तक जिले के 12 अस्पताल हुए सर्टिफाइड
खुलासा न्यूज, बीकानेर। बीकानेर शहर के दो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र यूपीएचसी सर्वोदय बस्ती और यूपीएचसी बीछवाल एक साथ एनक्यूएएस सर्टिफाइड अस्पताल बन गए हैं। यानीकि इन्हें राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय स्तर पर सर्टिफाई कर दिया गया है। इसके लिए अस्पतालों को 3 साल तक 3-3 लाख रुपए इंसेंटिव प्राप्त होगा जिसका उपयोग अस्पताल के उन्नयन में किया जा सकेगा। स्वास्थ्य मंत्रालय भारत सरकार के संयुक्त सचिव विशाल चौहान द्वारा इस आशय का पत्र स्वास्थ्य विभाग राजस्थान सरकार की अतिरिक्त मुख्य सचिव शुभ्रा सिंह को भेजकर बधाई प्रेषित की गई है। राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम की राज्य नोडल अधिकारी डॉ किरण नागपाल ने कार्यक्रम के जिला नोडल अधिकारी डॉ योगेंद्र तनेजा व जिला गुणवत्ता प्रकोष्ठ के सदस्य नर्सिंग अधिकारी महिपाल सिंह चौधरी को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है। राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम के अंतर्गत डॉ किरण नागपाल, कार्यक्रम अधिकारी सुषमा दीक्षित व वरिष्ठ नर्सिंग अधिकारी नरेश लामोरिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बेरासर, सारुंडा, जांगलू व रानेर दामोलाईं के राज्य स्तरीय मूल्यांकन हेतु बीकानेर जिले के दौरे पर है।

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मोहम्मद अबरार पंवार ने बताया कि सर्वोदय बस्ती यूपीएचसी ने राष्ट्रीय मूल्यांकन टीम द्वारा मूल्यांकन में 87.7त्न अंक जबकि यूपीएचसी बीछवाल ने 85.8त्न अंक प्राप्त कर यह कीर्तिमान बनाया है। प्रत्येक अस्पताल का स्वयं के स्तर, जिला स्तर, राज्य स्तर व राष्ट्रीय स्तर पर मूल्यांकन करवाया जाता है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए यूपीएचसी सर्वोदय बस्ती प्रभारी डॉ बेनजीर अली, यूपीएचसी बीछवाल प्रभारी डॉ पी के सरीन, डीपीओ नेहा शेखावत व समस्त स्टाफ को बधाई प्रेषित की।

डॉ योगेंद्र तनेजा ने बताया कि आदिनांक जिले के 12 अस्पताल राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन कार्यक्रम के अंतर्गत प्रमाणित हो चुके हैं जोकि राज्य स्तर पर एक बड़ी उपलब्धि है। इसी के साथ राज्य स्तर पर पहली बार 3 उप स्वास्थ्य केंद्र स्वास्थ कल्याण केंद्रों को राष्ट्रीय गुणवत्ता कार्यक्रम में प्रमाणित करने हेतु नेशनल टीम मूल्यांकन कर चुकी है। जल्द ही उप स्वास्थ्य केंद्र श्रेणी में गुणवत्ता आश्वासन प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाला बीकानेर राज्य का पहला जिला बन सकता है।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26