बीकानेर के इन नेताओं को नहीं मिली तवज्जो, मुंह छूपाने को मजबूर, पढि़ए रिपोर्ट - Khulasa Online

बीकानेर के इन नेताओं को नहीं मिली तवज्जो, मुंह छूपाने को मजबूर, पढि़ए रिपोर्ट

खुलासा न्यूज़, बीकानेर। नगर निगम चुनावों में अपने समर्थकों को पार्टी टिकट दिलाने के लिये बढ-चढ कर दावे करने वाले शहर कांग्रेस के कई नामी नेताओं को डागा चौक वालों ने ऐसी करामात दिखाई कि ज्यादात्तर नेता अब मुंह छुपाने को मजबूर है,मजे कि बात तो यह है कि मुंह छुपाने वालों में शहर कांग्रेस अध्यक्ष भी शामिल है,जिन्होने भाजपाई सत्ता के दौरान बीकानेर में कांग्रेस को दुगुनी मजबूती दी थी,विधानसभा चुनावों में भी शहर कांग्रेस अध्यक्ष समेत अल्पसंख्यक लॉबी के तमाम नेताओं ने जमकर मेहनत की। अपनी इस मेहनत की हकदारी के लिये इन्होने नगर निगम चुनावों मेंं समर्थकों के लिये पार्टी की टिकटें मांगी तो टिकट बांटने वालों ने इन्हे तरजीह नहीं दी,हालांकि इन्होने कर्मठता और पार्टी के प्रति कृतव्यनिष्ठा की दुहाईया देने के साथ विधानसभा चुनावों में दिनरात एक करने के सबूत पेश किये लेकिन फिर भी टिकट बांटने वालों ने इनकी सुनवाई नहीं की,इतना ही नहीं बल्कि विरोधी गुट वालों को टिकटें देकर जले पर नमक छिड़क दिया। ऐसे में अपने समर्थकों के बीच कौनसा मुंह लेकर जाये,क्योंकि टिकट बांटने वालों ने इन्हे मुंह दिखाने के लायक ही नहीं छोड़ा।

इन कांग्रेसी नेताओं को नहीं मिली तव्वजो - सह प्रभारी रेहाना रियाज शहर अध्यक्ष यशपाल गहलोत - पीसीसी सदस्य मकसूद अहमद - कांग्रेस नेता गोपाल गहलोत

इन भाजपा नेताओं को नहीं मिली तव्वजो गोपाल जोशी महावीर रांका नारायण चौपड़ा

नेताओं की चुप्पनी बनी चर्चा का विषय राजनीतिक गलियारों में इन दिनों कांग्रेस के कुछ नेताओं की चुप्पी चर्चा का विषय बनी हुई है। टिकट बंटवारे में केबिनेट मंत्री डॉ. कल्ला, भरतराम मेघवाल, लोकसभा प्रत्याशी रहे मदन गोपाल मेघवाल, प्रदेश सचिव जिया उर रहमान, राजकुमार किराडू, कांग्रेस नेता राजू व्यास तथा नेता प्रतिपक्ष जावेद पडि़हार व नारायण झंवर के इर्द-गिर्द ही घटनाक्रम घूमता रहा। जिन नेताओं को तवज्जो नहीं मिली, वे फिलहाल निकाय चुनाव में कम ही सक्रिय हैं।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26