बिजली कटौती में बड़ी राहत मिली, शहरों में कटौती घटाई - Khulasa Online

बिजली कटौती में बड़ी राहत मिली, शहरों में कटौती घटाई

राजस्थान में इंडस्ट्रीज और बिजली कंज्यूमर्स को बिजली कटौती में बड़ी राहत मिली है। विंड एनर्जी से मिली एक्सट्रा बिजली और एक्सचेंज से बिजली खरीदकर सप्लाई बढ़ाई गई है। प्रदेश में 2 और 3 मई को सुबह बिजली कटौती नहीं की गई है। प्रदेश में इंडस्ट्रीज को 8 घंटे की बजाय 14 घंटे बिजली देने का फैसला लिया गया है। आज रात 12 बजे से सुबह 6 बजे तक और सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक बिजली सप्लाई दी जा रही है। शाम 6 बजे से रात 12 बजे तक इंडस्ट्री की बिजली सप्लाई बंद रहेगी। आज ईद, आखातीज और भगवान परशुराम जयंती के मौके पर बाजारों, शादी-ब्याह स्थलों के साथ ही घरों में बिजली कंजम्पशन बढ़ने के पूरे आसार हैं। इसलिए प्रदेश की लगभग पौने 2 लाख इंडस्ट्रीयल यूनिट्स में शाम को पावर कट रहेगा।   राजस्थान में मौसम में हुए बदलाव के कारण तेज हवाएं और आंधी चलने से बिजली संकट से राहत मिली है। प्रदेश में पिछले तीन दिन से चल रही 30 से 50 किलोमीटर रफ्तार की हवाओं से विंड एनर्जी प्रोडक्शन में अचानक बड़ा उछाल आ गया है। हवा से 2500 से 2600 मेगावाट बिजली एक दिन में पैदा होने लग गई है। जबकि सामान्य मौसम में पहले करीब 350 से 450 मेगावाट ही विंड एनर्जी मिल पा रही थी। राजस्थान में विंड पॉवर क्षेत्र में 4326.82 मेगावाट क्षमता डवलप की जा चुकी है। अकेले जैसलमेर जिले में करीब 3500 मेगावाट कैपेसिटी की पवन चक्कियां लगी हुई हैं। करीब 425 मेगावाट विंड मिल्स जोधपुर जिले में लगी हैं। बाकी चित्तौड़गढ़, बाड़मेर, सीकर जिलों में हैं। सीएम गहलोत ने राजस्थान रिन्यूएबल एनर्जी कॉर्पोरेशन लिमिटेड को साल 2024-25 तक प्रदेश के लिए तय 7500 मेगावाट विंड और हाइब्रिड एनर्जी प्रोडक्शन का टारगेट तय वक्त से पहले पूरा करने को कहा है।    
error: Content is protected !!
Join Whatsapp