30 अप्रैल 2022 को होने वाला सूर्य ग्रहण यहां नहीं दिखेगा - Khulasa Online

30 अप्रैल 2022 को होने वाला सूर्य ग्रहण यहां नहीं दिखेगा

नई दिल्ली। साल 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल को लगेगा। हिंदू पंचांग के अनुसार, 30 अप्रैल को वैशाख मास की अमावस्या तिथि है। सूर्य ग्रहण की दृश्यता के अनुसार ही सूतक काल का निर्धारण किया जाता है। अगर भारत में कोई ग्रहण नजर आता है तो सूतक काल मान्य होता है। ज्योतिषियों के अनुसार धार्मिक दृष्टि से ग्रहण को शुभ नहीं माना जाता है। इस दौरान मांगलिक कार्यों की मनाही होती है। मंदिर के कपाटों को भी बंद कर दिया जाता है। 30 अप्रैल और 1 मई की मध्य रात्रि में ग्रहण होगा। 30 अप्रैल की रात भारतीय समयानुसार ग्रहण रात में 12.15 बजे शुरू होगा। इस ग्रहण का मोक्ष 1 मई की सुबह 4.07 बजे होगा। भारत के किसी भी क्षेत्र में ये ग्रहण नहीं दिखेगा। शनिश्चरी अमावस्या इस बार 30 अप्रैल को स्नान, दान और श्राद्ध की अमावस्या रहेगी। शनिवार को अमावस्या होने से इसे शनिश्चरी अमावस्या कहा जाता है। शनिवार को अमावस्या होने से इसका महत्व और अधिक बढ़ जाता है।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp