>



हॉन्गकॉन्ग पुलिस हाल ही में एक गैर-कानूनी मसाज पार्लर पर छापा मारने के बाद से सुर्खियों में है क्योंकि इस पुलिस फोर्स को वहां जो मिला, उसकी इन  पुलिसवालों ने शायद ही कल्पना की होगी. ये मसाज पार्लर बिना लाइसेंस के चल रहा था और जब यहां छापा पड़ा तो हॉन्गकॉन्ग पुलिस का एक टॉप अधिकारी लोकेशन पर पाया गया.

इस अफसर का नाम फ्रेडरिक चोई चिन-पेंग है. ये शख्स हॉन्गकॉन्ग पुलिस में सीनियर असिस्टेंट कमिश्नर के पद पर काबिज है. साउथ चीन मॉर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट  के अनुसार, इस शख्स को रेड में पकड़ने के बाद उसे लीव पर भेज दिया गया है. बता दें कि फ्रेडरिक पुलिस नेशनल सिक्योरिटी यूनिट का डायरेक्टर है.

 

माना जा रहा है कि इस घटना के बाद हॉन्गकॉन्ग पुलिस की छवि को तगड़ा झटका लग सकता है. साल 2019 के बाद से ही हॉन्गकॉन्ग पुलिस को काफी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. दरअसल इसी साल से ही हॉन्गकॉन्ग पुलिस एंटी गर्वनमेंट प्रदर्शनों पर क्रैकडाउन के चलते लोगों के बीच काफी अलोकप्रिय होने लगी थी

इस मामले में हॉन्गकॉन्ग पुलिस चीफ क्रिस टैंग ने फ्रेडरिक के अरेस्ट को कंफर्म किया है. उन्होंने रिपोर्टर्स के साथ बातचीत में कहा कि जाहिर है, इस घटना  से पुलिस फोर्स के हालातों पर फर्क पड़ेगा. लेकिन इसमें दो राय नहीं कि नेशनल सिक्योरिटी डिपार्टमेंट किसी एक अधिकारी पर बैठने वाली जांच से विचलित नहीं होगी.

 

गौरतलब है कि फ्रेडरिक हॉन्गकॉन्ग पुलिस फोर्स में तीसरे नंबर का सबसे सीनियर व्यक्ति है.  फ्रेडरिक ने साल 1995 में पुलिस फोर्स जॉइन की थी. उसने चीन,  यूके, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और अमेरिका जैसे देशों में ट्रेनिंग ली थी. इसी साल फरवरी में हॉन्गकॉन्ग के लीडर ने फ्रेडरिक और छह पुलिस अफसरों को पब्लिक  सर्विस ऑनर से सम्मानित भी किया गया था.