बीकानेर में अंधविश्वास ने ली मुन्नी की जान, चलता रहा झाड़ फूंक से उपचार  - Khulasa Online

बीकानेर में अंधविश्वास ने ली मुन्नी की जान, चलता रहा झाड़ फूंक से उपचार 

खुलासा न्यूज, बीकानेर/  श्रीडूंगरगढ़।  अंधविश्वास अभी भी लोगों की जान ले रहा है। यही देखने को मिला है श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र के गांव दुसारणा बड़ा में।  जानकारी के अनुसार दुसारणा बड़ा निवासी 36 वर्षीय मुन्नीदेवी उर्फ कुन्नदेवी जाट गत 5-6 सालों से मानसिक रूप से बीमार थी एवं परिजनों द्वारा झाड़ फूंक के चक्कर में पड़ कर उपचार भी करवाया जा रहा था। मुन्नीदेवी ने मंगलवार को अपने घर में ही खुद को फांसी पर लटका लिया। हालांकि परिजनों ने उसे आत्महत्या का प्रयास करते हुए देख लिया एवं उसे तुंरत उतार कर श्रीडूंगरगढ़ चिकित्सालय लेकर आए। रास्ते में उसे दो-तीन उल्टियां हुई एवं चिकित्सालय पहुंचने पर चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इस संबध में मृतका के पीहर पक्ष के लोग भी रीड़ी से श्रीडूंगरगढ़ पहुंच गए। मृतका के पति जेठाराम जाट ने इस संबध में मर्ग दर्ज करवाई है एवं पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिजनों के सुपुर्द कर दिया है।

झाड़फूंक के उपचार की शिकार बनी मुन्नीदेवी की आत्महत्या ने एक बार फिर से यह बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है कि आखिर कब सामान्य जन इन अंधविश्वासों से दूर होकर सही इलाज करवाने की ओर कदम बढ़ाएंगे।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp