अचानक सीएम के ओएसडी शर्मा पायलट से मिलने पहुंचे, क्या है माजरा पढ़े पूरी खबर - Khulasa Online अचानक सीएम के ओएसडी शर्मा पायलट से मिलने पहुंचे, क्या है माजरा पढ़े पूरी खबर - Khulasa Online

अचानक सीएम के ओएसडी शर्मा पायलट से मिलने पहुंचे, क्या है माजरा पढ़े पूरी खबर

बीकानेर। बीकानेर पूर्व व पश्चिम से कांग्रेस से अपनी दावेदारी जातने वाले सीएम के ओएसडी लोकेश शर्मा अचानक पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट से मिलने पहुचे। सीएम अशोक गहलोत के विशेषाधिकारी और प्रदेश कांग्रेससेंट्रल वॉर रूम के को-चेयरमैन लोकेश शर्मा पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलटसे मुलाकात की है। इसके अलग-अलग मायने निकाले जा रहे है। कहा जा रहा है कि इस दौरान दोनों नेताओं के बीच प्रदेश के विधानसभा चुनाव कोमद्देनजर बीकानेर सहित राज्य की अन्य विधानसभा सीटों पर सियासी गणित को लेकर मंथन-चिंतन हुआ। यह भी माना जा रहा है कि लोकेश सीएम अशोक गहलोत के दूत बनकर सचिन पायलट के पास पहुंचे थे और राजस्थानमें कांग्रेस की जीत को लेकर गहलोत का संदेश पायलट को जाकर दिया था। लेकिन राजनीतिक विश्लेषक बता रहे हैं कि मसला कुछ और ही है।मुलाकात के अलग-अलग मायनेशनिवार को ही कांग्रेस पार्टी ने राजस्थानविधानसभा चुनाव 2023 के लिए अपनी 33 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की थी। इसके अगले ही दिन दोनों नेताओं के बीच करीब 1 घंटे तक चली इस मुलाकात को लेकर तरह-तरह के कयास लग रहे हैं। खास बात यह हैकि बीते 5 वर्षों में यह पहला अवसर था जब लोकेश शर्मा और सचिन पायलट के बीच पायलट के आवास पर पहली मुलाकात हुई।बीकानेर सीट से अपनी दावेदारी कीबता दें विधानसभा चुनाव के लिए लोकेश शर्मा ने भी बीकानेर सीट से अपनी दावेदारी की है और लंबे समय से इस क्षेत्र में सक्रिय हैं। इस सीट पर कांग्रेस की तरफ से प्रत्याशी का ऐलान नहीं किया गया है। ऐसे में चर्चा है किलोकेश शर्मा और सचिन पायलट के बीच इस सीट के सियासी समीकरणों को लेकर बातचीत हुई है। वहीं इस अहम मुलाकात के बाद लोकेश शर्मा मीडिया से भी रूबरू हुए। इस दौरान लोकेश शर्मा ने कहा कि वे इस बार केविधानसभा चुनाव में खुद टिकट की दावेदारी कर रहे हैं, इसके अलावा कांग्रेस आलाकमान ने उन्हें प्रदेश कांग्रेस के सेंट्रल वॉर रूम का को चेयरमैन बनाकर महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी है। इस वॉर रूम की कांग्रेस की रणनीति बनानेमें भी अहम भूमिका रहेगी। लोकेश शर्मा ने कहा कि हम सभी को एकजुट होकर चुनाव लडऩा है, सचिन पायलट कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं, ऐसे में इनसे सलाह-मशविरा करना भी आवश्यक है। ऐसे में सचिन पायलट सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं के साथ भी उनकी मुलाकातें होती रहेंगी।

error: Content is protected !!
Join Whatsapp 26