बिजली के खतरे से रहे दूर, होली खेलें भरपूर - Khulasa Online

बिजली के खतरे से रहे दूर, होली खेलें भरपूर

बीकानेर. कोविड 19 से बचाव के लिए जारी गाइड लाइनों में लगे प्रतिबंधों के कारण पिछले 2 वर्षों से लोग पूरे जोश व भीड के साथ होली नहीं खेल पा रहे थे, लेकिन इस बार कोविड गाइड लाइन में होली खेलने की पूरी छूट मिली हुई है, इससे लोगों में पिछले वर्षों की तुलना में इस साल होली को लेकर उत्साह ज्यादा है। बाजारों में पिचकारी, गुलाल, रंगों की दुकानें सजी हुई है और लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं। पूरा शहर होली के माहौल में रंग चुका है। उत्साह, उमंग, खुशी और प्रेम से ओतप्रोत हर किसी के मन में होली खेलने को लेकर कई योजनाएं चल रही है। कोई दोस्तों के साथ तो कोई परिजनों के साथए कोई घर पर ही तो कोई दोस्तों की टोलियों के बीच अपनों को रंग लगाने को लेकर आतुर है। होली का यह महापर्व धुलण्डी से एक दिन पहले होलिका दहन से शुरू होगा। खुशियों के रंग भरे इस त्यौहार में रंग में भंग नहीं पडेए इसके लिए विद्युत तंत्र से जुड़ी कुछ सावधानियां रखने की जरुरत है। ट्रांसफ ार्मर के पास या लाइनों के नीचे नहीं करें होलिका दहन होलिका दहन वाले स्थान के आसपास विद्युत ट्रांसफ ार्मर नहीं होना चाहिए। ट्रांसफ ार्मर में ऑयल होता है, आग के संपर्क में आने से ऑयल आग पकड़ सकता है। ऐसे में होलिका दहन का स्थान ट्रांसफ ार्मर से इतना दूर रखें की आग ट्रांसफ ार्मर तक नहीं पहुंच सके। इसी प्रकार होलिका दहन ऐसे स्थानों पर भी नहीं करें जिसके ऊपर बिजली की लाइन निकल रही हो। तार के आग के संपर्क में आने से तार टूटने की आशंका रहती है। ऐसे में होलिका दहन विद्युत लाइन के नीचे नहीं करें, इसके लिए विद्युत तंत्र से दूर खुले स्थान का चुनाव करें। होलिका दहन विद्युत तंत्र से दूर करें। विद्युत तंत्र पर पानी नहीं फैंके धुलण्डी पर लोग छतों से नीचे सड़क पर निकलने वाले लोगों पर पानी में घुला रंग या केवल पानी फैंकते हैं। यदि आपके घर के बाहर से विद्युत लाइन गुजर रही है या आसपास ट्रांसफ ार्मर, इंसुलेटर, कण्डक्टर आदि पानी के संपर्क में आने की स्थिति में है तो ऐसे घरों या आसपास से किसी पर पानी नहीं फैंके। ऐसा करने पर करंट लगने की आशंका रहती है। जरा सी सावधानी बरतें और खुशियों के त्यौहार को पूरी खुशियों के साथ ही मनाएं। घरों की सफ ाई में भी रखें विद्युत सुरक्षा का ध्यान घरों या संस्थानों में होली खेलने के बाद रंगों व गुलाल से गंदी हुई दीवारों को धोने के लिए लोग पाइप से सीधे दीवारों पर पानी डालना शुरू कर देते हैंए ऐसे में दीवारों पर लगे इलेक्ट्रिक बोर्ड व एमसीबी आदि में पानी चले जाने से दीवारों पर करंट उतरने की आशंका रहती हैए इससे बडी दुर्घटना घटित हो सकती है। ऐसे में दीवारों पर पानी डालते समय मीटर के बाद मैन स्वीच से पूरे घर या संस्थान की बिजली बंद करें।
error: Content is protected !!
Join Whatsapp