हर वर्ष वसूली जा रही है स्पोट्र्स फीस, नहीं हो रही है खेल प्रतियोगिताएं, - Khulasa Online

हर वर्ष वसूली जा रही है स्पोट्र्स फीस, नहीं हो रही है खेल प्रतियोगिताएं,

श्रीगंगानगर। कोरोना के चलते पिछले दो वर्ष से बीकानेर की महाराजा गंगासिंह युनिवर्सिटी में किसी तरह की खेल प्रतियोगिता तो नहीं करवाई गई लेकिन युनिवर्सिटी ने इस मद में फीस वसूलना जारी रखा है। हर स्टूडेंट से सत्तर रुपए इस एवज में वसूले जा रहे हैं। खास बात यह है कि राशि युनवर्सिटी फीस में ही शामिल है तथा इसके बिना स्टूडेंट का फार्म ही सबमिट नहीं होता। ऐसे में ये फीस जमा करवाना तो उनकी मजबूरी है, लेकिन इस फंड का उपयोग नहीं हो पाने की उन्हें पीड़ा है। उनका कहना है कि जब प्रतियोगिताएं हुई ही नहीं तो फीस किस बात की। वहीं युनिवर्सिटी इस फीस को अन्य खेल संबंधी डवलपमेंट में उपयोग करने की बात कह रही है। उनका कहना है कि प्रतियोगिताएं भले ही नहीं हो खेल संबंधी अन्य विकास में हम इस राशि का उपयोग कर रहे हैं। यह है स्पोट्र्स फीस का सही उपयोग युनिवर्सिटी की फीस में स्पोट्र्स फीस लेने का असली उद्देश्य सत्र के दौरान होने वाली खेल प्रतियोगिताओं के लिए आयोजक कॉलेज को राशि देना, प्रतियोगिता में शामिल होने वाले खिलाडिय़ों के टीए, डीए और ड्रेस का भुगतान करना, इंटर कॉलेज और इंटर युनिवर्सिटी प्रतियोगिताएं करवाना आदि होता है। युनिवर्सिटी को सामान्य दिनों में ये प्रतियोगिताएं करवाने की अनुमति थी। ऐसे में पैसा स्टूडेंट्स से आता और युनिवर्सिटी इसे उपयोग कर लेती, लेकिन इस बार ऐसा नहीं है। पिछले दो सत्र से केवल पैसा लिया गया है, खेल प्रतियोगताओं में कोई राशि खर्च नहीं हो पाई है। कितनी राशि मिलती है प्रतिवर्ष महाराजा गंगासिंह युनिवर्सिटी बीकानेर में चालू सत्र में करीब दो लाख से ज्यादा नियमित स्टूडेंट्स हैं। ऐसे में अगर प्रति स्टूडेंट्स सत्तर रुपए के हिसाब से देखें तो यह राशि देखें तो यह राशि करीब सवा करोड़ रुपए प्रति वर्ष के आसपास बैठती है। दो सत्र से प्रतियोगिताएं नहीं होने से बड़ी राशि अब युनिवर्सिटी के पास जमा है। विकास कार्य में करते हैं खर्च इस बारे में युनवर्सिटी के डायरेक्टर स्पोट्र्स यशवंत गहलोत का कहना है कि हालांकि खेल प्रतियोगताएं तो नहीं हुई है। ऐसे में स्पोट्र्स फीस स्टूडेंट्स के लिए तो खर्च नहीं हुई लेकिन हम इसका उपयोग बीकानेर में साइक्लिंग वेलोड्रम बनाने जैसी अन्य गतिविधियों में कर रहे हैं। हमारा प्रयास है कि पैसा खेल के विकास में ही खर्च किया जाए। फैक्ट फाइल रेग्यूलर स्टूडेंट्स-लगभग 2 लाख एफिलिएट कॉलेज-350 युनिवर्सिटी क्षेत्र के जिले-04 स्पोट्र्स फीस-70 रुपए प्रति स्टूडेंट
error: Content is protected !!
Join Whatsapp