दवा दुकानों पर नहीं चलेगा दिखावे का एक्शन , मनमाने एक्शन पर अब कार्रवाई की लटकी तलवार! - Khulasa Online

दवा दुकानों पर नहीं चलेगा दिखावे का एक्शन , मनमाने एक्शन पर अब कार्रवाई की लटकी तलवार!

खुलासा न्यूज, बीकानेर। राजस्थान के ड्रग डिपार्टमेंट में अब चेहरा देखकर दवा दुकानों पर एक्शन नहीं होगा.जी हां, औषधि नियंत्रक संगठन फील्ड से आ रही गंभीर शिकायतों पर प्रसंज्ञान लेते हुए नियंत्रण अधिकारियों के लिए एडवाजरी जारी है.इस एडवाजरी में साफ निर्देश दिए गए है कि दवा दुकानों पर अनियमितताओं के मामले में होने वाली "कार्रवाईयों" में एकरूपता रखी जाए.साथ ही इस काम में लापरवाही पर कार्रवाई के भी संकेत दिए गए है.

ड्रग डिपार्टमेंट की कार्यशैली किसी से छिपी नहीं है.फील्ड में किसी दुकान पर कितनी भी बड़ी अनियमितता मिले, यदि उच्च स्तर पर कनेक्शन अच्छे हो तो पल भर में मामला सेट हो जाता है.फील्ड अधिकारी कितनी भी सख्त रिपोर्ट बना दें, लेकिन लाइसेंसिंग अथोरिटी यानी सहायक औषधि नियंत्रक तक आते-आते मामला अलग की मोड ले लेता है.कई बारगी तो ऐसे मामले भी सामने आए है, जिसमें एक ही तरह की "अनियमितता" पर किसी को सिर्फ नोटिस दे दिया गया और किसी पर निलम्बन की कार्रवाई हो गई.इसी तरह की कुछ शिकायतें उच्च स्तर पर भी पहुंची है.इसके बाद अब औषधि नियंत्रक अजय फाटक ने सख्ती दिखाते हुए सभी अधिकारियों को एक समान कार्रवाई की एडवाजरी जारी की है.

मनमाने एक्शन पर अब कार्रवाई की लटकी तलवार!: -बात औषधि नियंत्रक संगठन में "कार्रवाईयों" की एकरूपता से जुडी -मनमानी कार्रवाईयों की फील्ड में से मिल रही कई शिकायतों -तो औषधि नियंत्रक अजय फाटक ने शुरू किया क्रास वेरिफिकेशन -कुछ अधिकारियों से मांगा गया पिछले तीन साल की कार्रवाईयों का ब्यौरा -दवा दुकानों पर जांच के दौरान क्या मिली अनियमितता और क्या हुआ एक्शन -इस बारे में अधिकारियों से मांगा गया है विस्तृत कार्रवाई ब्यौरा -रिपोर्ट में मनमानी कार्रवाई की पुष्टि होने पर अधिकारियों पर एक्शन तय

दवा दुकानों पर नहीं चलेगा दिखावे का एक्शन !: -फील्ड की कार्रवाइयों और एक्शन में एकरूपता को लेकर सख्ती -औषधि नियंत्रक अजय फाटक ने जारी किए अधिकारियों को आदेश -लाइसेंस निलंबन और निरस्त करने का एक माह में लेना होगा फैसला -एडीसी कागजों में दबाकर नहीं रख सकेंगे दुकान पर कार्रवाई का आदेश -संस्था, एरिया DCO, थाना इंचार्ज को तत्काल ई-मेल पर देनी होगी सूचना -दरअसल, गड़बड़ी करने वाली दवा फर्मों पर कार्रवाई का दे रखा अधिकार -DCO  की रिपोर्ट पर सहायक औषधि नियंत्रक के पास है ये अधिकार -लेकिन कार्रवाई के आदेशों में ADC स्तर के अफसरों ने निकाल रखी गली -सिर्फ एरिया DCO-थाने के नाम निकाली जाती 'खानापूर्ति' की प्रतिलिपि -ऐसे में जिनकी बैठ जाती 'ट्यूनिंग', वे फर्म निलम्बन काल में जारी रखती काम -लेकिन अब ई-मेल पर सूचना भेजने के निर्देश से पाबंध होंगे सभी जिम्मेदार -आखिरकार जिस फर्म पर एक्शन के हुए आदेश, उनका फील्ड में होगा क्रियान्वयन

24 घंटे में ऑनलाइन अपलोड होगी दवा दुकानों की निरीक्षण रिपोर्ट: -औषधि नियंत्रण संगठन में फील्ड की मॉनिटरिंग के लिए सख्ती -औषधि नियंत्रक अजय फाटक ने जारी किए सभी DSO को आदेश -दुकानों की निरीक्षण रिपोर्ट 24 घंटे में ऑनलाइन अपलोड करने के निर्देश -कार्रवाई की एक कॉपी लाइसेंसी अथॉरिटी को भी तत्काल देना होगा जरूरी -जांच में मिली अनियमितता का जिक्र रजिस्टर-डिजिटल फार्म में भी करने के निर्देश

error: Content is protected !!
Join Whatsapp